लाइव टीवी

राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता:देश के लिए ओलंपिक में मेडल लाना चाहती हैं ये महिला पहलवान
Mandi News in Hindi

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: March 5, 2020, 4:14 PM IST
राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता:देश के लिए ओलंपिक में मेडल लाना चाहती हैं ये महिला पहलवान
लॉकडाउन में हरियाणा के पहलवानों को बड़ा झटका (फाइल फोटो)

हिप्र कुश्ती संघ के कार्यकारी अध्यक्ष ड़ॉ. संजय यादव ने बताया कि महिलाएं आज कुश्ती जैसे खेल में बेहतर नाम कमा रही हैं. सरकारों की तरफ से भी महिलाओं को इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए पूरा मौका दिया जा रहा है.

  • Share this:
मंडी. कोई क्षेत्र ऐसा नहीं बचा है, जहां महिलाएं (Women) पुरूषों का मुकाबला करके आगे न बढ़ रही हों. बात चाहे विज्ञानी की हो या पहलवानी की. महिलाएं हर क्षेत्र में खुद को साबित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही. मंडी में जारी राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता (National Wrestling Championship) में भाग लेने आई महिला पहलवान (Wrestler) पुरूषों के मुकाबले अधिक प्रतिस्पर्धा दिखा रही हैं.

यहां जारी राष्ट्रीय प्रतियोगिता में महिलाओं की 22वीं जूनियर कुश्ती प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है, जिसमें देश के सभी राज्यों से आई लगभग 350 महिला पहलवान भाग ले रही हैं. सभी प्रतियोगिता को जीतकर आगे जाने के लिए अपना पूरा दमखम दिखा रही है.

यह बोली हरियाणा और यूपी की पहलान
उत्तर प्रदेश से आई पहलवान भारती बघेल और हरियाणा से आई पूजा करम बताती हैं कि आज पहलवानी के क्षेत्र में भी महिलाओं के पास बहुत कुछ करने को है. कुश्ती के माध्यम से जहां अपनी अलग पहचान बनाई जा सकती है. वहीं, देश के लिए भी कुछ करने का मौका मिलता है. देश की इन भावी महिला पहलवानों का एक ही लक्ष्य है और वह है देश को ओलंपिक में मेडल दिलाना. याद रहे कि 2016 के ओलंपिक में देश को सिर्फ एक मेडल मिला था और उसे दिलाने में पहलवान साक्षी मल्लिक ने जीतोड़ मेहनत की थी.



मंडी में राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता चल रही है.
मंडी में राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता चल रही है.




आगे बढ़ने का पूरा मौका
हिप्र कुश्ती संघ के कार्यकारी अध्यक्ष ड़ॉ. संजय यादव ने बताया कि महिलाएं आज कुश्ती जैसे खेल में बेहतर नाम कमा रही हैं. सरकारों की तरफ से भी महिलाओं को इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए पूरा मौका दिया जा रहा है. उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में जो भी महिला प्रतिभागी मेडल हासिल करेंगी उन्हें राष्ट्रीय कैंप में जाने का मौका दिया जाएगा, जहां से वह आगे की प्रतियोगिताओं के लिए चयनित होंगी.

ये भी पढ़ें: धर्मशाला में भारत और दक्षिण अफ्रीका वनडे मैच पर कोरोना वायरस का साया!

PHOTOS: हिमाचल में मार्च महीने में नारकंडा और मनाली में ताजा स्नोफॉल

Coronavirus: हिमाचल में एक भी केस नहीं, अलग से चिन्हित होंगे 3 अस्पताल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 5, 2020, 4:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading