…ताकि काम ना लटकें, नप नेरचौक में पार्षद खुद संभालेंगे कर्मियों का काम

नगर परिषद (Municipal Council Nerchowk) की अध्यक्षा लता कुमारी ने कहा कि स्टाफ की कमी से कई ऐसे विभिन्न कार्य है जो निश्चित समय पर पूरा नहीं हो पाते है और अब नप के समस्त पार्षद खुद इसकी जिम्मेदारी लेंगे तथा सभी पार्षदों की अलग अलग भूमिका तय की गई है

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 6, 2019, 11:30 AM IST
…ताकि काम ना लटकें, नप नेरचौक में पार्षद खुद संभालेंगे कर्मियों का काम
नेरचौक नगर परिषद के पार्षद.
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 6, 2019, 11:30 AM IST
मंडी. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के मंडी जिले में नेरचौक नगर परिषद (Nerchowk Municipal Council) के पार्षदों ने कर्मचारियों की कमी को दूर करने के लिए अनोखा फार्मूला अपनाया है. कर्मचारियों की कमी को पूरा करने के लिए पार्षदों ने हर ब्रांच का काम खुद ही संभाल लिया. इसके लिए बाकायदा बैठक की गई और आपसी सहमति से पार्षदों ने मंत्रालय बांटे. बांटे गए शाखा का पूरा काम खुद पार्षद संभालेंगे और जनता के कार्य निपटाएंगे. इस निर्णय के जरिए नगर परिषद नेरचौक के पार्षदों ने सरकार को आईना दिखाया है. कई बार सरकार से आग्रह के बावजूद कोई कर्मचारियों की तैनाती न होने पर पार्षदों ने बैठक कर यह सामूहिक निर्णय लिया.

प्रारूप तैयार किया है
हिमाचल प्रदेश के इतिहास में यह पहली बार है कि किसी नगर परिषद के सदस्यों ने ऐसा प्रारूप तैयार किया, जिसमे वह स्वंय कार्य करेंगे और इससे लंबित पड़े विभिन्न कार्यों में तेजी आएगी और जनता को कार्यालय के बार बार चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे. पार्षदों का कहना है कि पार्षद के काम के साथ कर्मचारियों की कमी को दूर करने के लिए अपनी अपनी ब्रांच का बखूबी से निभाएंगे। पार्षद को दिए गए ब्रांच का कार्यभार पूरी तरह से स्वतंत्र रहेगा. किसी की कोई दखलदांजी नहीं होगी.

‘निश्चित समय पर पूरा नहीं हो पाते काम’

नगर परिषद की अध्यक्षा लता कुमारी ने कहा कि स्टाफ की कमी से कई ऐसे विभिन्न कार्य है जो निश्चित समय पर पूरा नहीं हो पाते है और अब नप के समस्त पार्षद खुद इसकी जिम्मेदारी लेंगे तथा सभी पार्षदों की अलग अलग भूमिका तय की गई है, जिसमे वो स्वयं हर विभाग की बैठक, पत्राचार, समीक्षा करेंगे. नप कार्यालय में विभाग के अनुसार ही फाइलों का निपटारा किया जाएगा. लता कुमारी ने बताया कि जनता सर्वोपरि है और जनता के हित के लिए सभी पार्षद 16 से 18 घंटे भी काम करने के लिए तत्पर रहेंगे.

किस पार्षद को कौन सा प्रभार
नप अध्यक्षा लता कुमारी के पास परिषद के समस्त विकासात्मक कार्य और नप सदन और कार्यालय सम्बंधित विभाग का प्रभार सौंपा गया है, जबकि उपाध्यक्ष चेत सिंह ठाकुर को कर्मचारी वर्ग, नप सम्पत्ति और राजस्व प्राप्ति, प्रमाण पत्र, आदि संबंधित विभाग का प्रभारी बनाया गया है. पार्षद रजनीश सोनी के पास वित्त व योजना, निकाय टेक्स, सेनिटेशन एव जन स्वास्थ्य, बिजली, पानी संबंधित लंबित मामले और कोर्ट सम्बंधित मामले का प्रभार दिया गया है. पार्षद सुमन चौधरी के पास समाजिक विकास व शहरी गरीबी उन्मूलन विभाग का प्रभार रहेगा. पार्षद सरस्वती ठाकुर को भवन निर्माण और नक्शा सम्बंधित विभाग, पार्षद अमरप्रीत कौर के पास ऊर्जा और स्ट्रीट लाइट, पार्षद मनी राम को रेहड़ी फड़ी मामलों का प्रभारी बनाया गया है, जबकि पार्षद राम कृष्ण को जन शिकायत निवारण विभाग, पार्षद आलम राम को पेंशन संबंधित व सामाजिक कल्याण विभाग, पार्षद सोनू जम्वाल को स्वच्छ भारत मिशन, पार्षद निर्मला देवी को प्रधानमंत्री आवास योजना का प्रभार सौंपा गया है. मनोनीत पार्षद रोहित कुमार को पेयजल और जल आपूर्ति विभाग, मनोनीत पार्षद सुखलाल वर्मा को जल निकासी एव सीवरेज विभाग, मनोनीत पार्षद दीक्षित नारंग को ट्रैफिक व यातायात व्यवस्था और मनोनीत पार्षद रूप लाल को आवारा पशुओं संबंधित विभाग का स्वतंत्र प्रभार की जिम्मेदारी निर्धारित की गई है.
Loading...

ये भी पढ़ें: भत्ता वृद्धि मामला: धूमल के बयान पर CM की चुटकी, ‘फैसले पर करेंगे पुनर्विचार’

VIDEO: स्कूली बच्चों से भरी गाड़ी नदी में छोड़ भागा चालक, लोगों ने निकाला

SMS से पैसा कमाने का फ्रॉड: 366 दिन बाद मुख्य आरोपी गिरफ्तार

टीचर्स-डे: आर्कषण का केंद्र रहे चंबा के 26 वर्षीय शिक्षक युद्धबीर, इसलिए नवाजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 10:24 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...