लाइव टीवी

हिप्र विश्वविद्यालय की लापरवाही, 4 दिन के अंदर दूसरी बार नए सिलेबस से पूछे प्रश्न

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 18, 2019, 11:17 PM IST
हिप्र विश्वविद्यालय की लापरवाही, 4 दिन के अंदर दूसरी बार नए सिलेबस से पूछे प्रश्न
इससे पहले बीए थर्ड ईयर के पेपर में भी हो चुकी है इस प्रकार की गड़बड़ी.

गोल्डन चांस के तहत बीए सेकंड ईयर अंग्रेजी विषय की इम्प्रूवमेंट की परीक्षा थी. 1990 से 2012 के बीच जो ग्रेजुएशन कर चुके हैं उन्हें अंकों के सुधार के लिए यह गोल्डन चांस दिया गया, लेकिन हिप्र विश्वविद्यालय ने नए सिलेबस के तहत प्रश्न पत्र भेजकर परीक्षार्थियों को परेशानी में डाल दिया.

  • Share this:
मंडी. एक बार फिर नए सिलेबस के तहत आए प्रश्न पत्र (Question Paper) को देखकर परीक्षार्थियों के होश उड़ गए. चार दिनों के भीतर हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय (Himachal Pradesh University) की लापरवाही का यह दूसरा मामला सामने आया है. आज शुक्रवार को गोल्डन चांस (Golden Chance) के तहत बीए सेकंड ईयर अंग्रेजी विषय (English Subject) की इम्प्रूवमेंट की परीक्षा थी. 1990 से 2012 के बीच जो ग्रेजुएशन (Graduation) कर चुके हैं उन्हें अंकों के सुधार के लिए यह गोल्डन चांस दिया गया, लेकिन हिप्र विश्वविद्यालय ने नए सिलेबस (New Syllabus) के तहत प्रश्न पत्र भेजकर परीक्षार्थियों को परेशानी में डाल दिया.

यह परीक्षा हिमाचल प्रदेश के तीन परीक्षा केंद्रों में हो रही है जिसमें शिमला, धर्मशाला और मंडी शामिल हैं. मंडी (Mandi) में परीक्षा देने आए परीक्षार्थियों में रमेश कुमार, चेतन, पंकज, शकुंतला, संतोष, अरविंद, सीमा सहित अन्य परीक्षार्थियों ने बताया कि जो प्रश्न पत्र आया था वह नए सिलेबस के तहत आया था जबकि परीक्षा को पुराने पैटर्न के तहत आयोजित करने की बात कही गई थी.

परीक्षा दोबारा आयोजित करने की मांग

इनका कहना है कि एक परीक्षा देने के लिए इन्हें हजारों रुपए खर्च करने पड़ रहे हैं. हालांकि इन्होंने परीक्षा का बहिष्कार नहीं किया और विश्वविद्यालय प्रशासन व राज्य सरकार से इस परीक्षा को दोबारा और पुराने पैटर्न पर आयोजित करने की मांग उठाई. बता दें कि बीते 14 अक्तूबर को बीए थर्ड ईयर की इम्प्रूवमेंट की परीक्षा थी और उसका प्रश्न पत्र भी आउट ऑफ सिलेबस आया था जिसका परीक्षार्थियों ने बहिष्कार कर दिया था.

ये भी पढ़ें - 13 साल में भी नहीं शुरू हो पाई 100 MW की उहल जल विद्युत परियोजना

ये भी पढ़ें - बीजेपी का कांग्रेस पर वार, कहा- उपचुनाव में रैलियां तक नहीं कर पा रही कांग्रेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 18, 2019, 11:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...