Home /News /himachal-pradesh /

नलवाड मेले में कवि सम्मेलन का आयोजन

नलवाड मेले में कवि सम्मेलन का आयोजन

शुक्रवार को सुंदरनगर में राज्य स्तरीय नलवाड एवं देवता मेले के उपलक्ष पर राज्य स्तरीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। मेला समिति की तरफ से आयोजित इस कवि सम्मेलन में मंडी जिला के साथ- साथ प्रदेश के बाकी जिलों से आए कवियों ने भाग लिया और अपनी कविताओं के माध्यम से सामाजिक बुराईयों पर कई तंज कसे।

शुक्रवार को सुंदरनगर में राज्य स्तरीय नलवाड एवं देवता मेले के उपलक्ष पर राज्य स्तरीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। मेला समिति की तरफ से आयोजित इस कवि सम्मेलन में मंडी जिला के साथ- साथ प्रदेश के बाकी जिलों से आए कवियों ने भाग लिया और अपनी कविताओं के माध्यम से सामाजिक बुराईयों पर कई तंज कसे।

शुक्रवार को सुंदरनगर में राज्य स्तरीय नलवाड एवं देवता मेले के उपलक्ष पर राज्य स्तरीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। मेला समिति की तरफ से आयोजित इस कवि सम्मेलन में मंडी जिला के साथ- साथ प्रदेश के बाकी जिलों से आए कवियों ने भाग लिया और अपनी कविताओं के माध्यम से सामाजिक बुराईयों पर कई तंज कसे।

अधिक पढ़ें ...
शुक्रवार को सुंदरनगर में राज्य स्तरीय नलवाड एवं देवता मेले के उपलक्ष पर राज्य स्तरीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। मेला समिति की तरफ से आयोजित इस कवि सम्मेलन में मंडी जिला के साथ- साथ प्रदेश के बाकी जिलों से आए कवियों ने भाग लिया और अपनी कविताओं के माध्यम से सामाजिक बुराईयों पर कई तंज कसे।

इसके साथ ही कवियों ने कविताओं के माध्यम से प्रदेश की खूबसूरती का वर्णन भी किया और हास्य कविताएं पढ़कर उपस्थित कवियों का मनोरंजन भी किया। इस कवि सम्मेलन की अध्यक्षता उच्च शिक्षा उपनिदेशक सुशील पुंडीर ने की। उन्होंने कवि सम्मेलन में आए हुए सभी कवियों का आभार प्रकट किया और कविताओं के माध्यम से व्यक्त किए गए विचारों की सराहना की। इस मौके पर मंडी जिला के जाने माने कवि और साहित्यकार भी मौजूद रहे। इनमें मुरारी शर्मा, विनोद भावुक, बीनू कश्यप, लवण ठाकुर, भीम देव परदेसी, महादेविया, डा. गंगा राम राजी और डा. आर.के. गुप्ता सहित अन्य कवि और साहित्कार भी मौजूद थे।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर