vidhan sabha election 2017

बारिश न होने की वजह से किसान हुए बेहाल

Virender Bhardwaj | News18Hindi
Updated: December 7, 2017, 6:26 PM IST
बारिश न होने की वजह से किसान हुए बेहाल
प्रतीकात्मक तस्वीर.
Virender Bhardwaj | News18Hindi
Updated: December 7, 2017, 6:26 PM IST
काफी लम्बे समय से बारिश नहीं हुई है. जिसके कारण जहां शुष्क ठंड में बढ़ौरी हुई है. बारिश न होने के कारण किसानों के खेत भी अभी तक सूने पढ़े हुए हैं. किसान इस बात से खासे परेशान हैं कि अगर बारिश नहीं हुई तो आने वाले समय में वे अपना पालन पोषण कैसे करेंगे.

किसानों के अनुसार, मौसम बदलने के साथ ही बारिश हो जानी चाहिए थी. जिससे की फसल आसानी से बीजी जा सकती थी, लेकिन अभी तक मौसम की बेरुखी के चलते किसानों को लगातार फसलों की चिंता सता रही है. जिन स्थानों पर सिंचाई की उचित व्यवस्था है वहां पर तो किसानों ने अपने खेतों में बीज डाल दिए हैं. लेकिन पूरे प्रदेश भर में ही ऐसी जगहे कम ही हैं जहां पर बारिश न होने की सूरत में पानी की व्यवस्था हो.

ऐसे में किसानों के पास परेशान होने के अलावा और कोई चारा नहीं है. काफी समय से बारिश न होने के कारण हर जगह धूल मिट्टी होने के कारण आम लोगों में बीमारियों का खतरा भी बढ़ रहा है. पेड़ पौधों पर, सडकों पर, घरों पर हर जगह धूल ही धूल दिखाई दे रही है.

किसानों का कहना है कि मौसम विभाग लगातार बारिश होने की बात कह रहा है, लेकिन बादल हैं कि आकर बिना बारिश किए ही चले जा रहे हैं. जिसके कारण बारिश न होने की सूरत में किसानों की उम्मीद पर पानी फिरता दिखाई दे रहा है.

मंडी जिला के किसानों ने आने वाली सरकारों से यह उम्मीद भी जताई है कि सरकारें आने वाले समय में कुछ इस प्रकार की व्यवस्था करें, ताकि किसान बारिश न भी होने पर अपने खेतों में पानी का प्रबन्ध कर सकें. खेती बाड़ी को जारी रख सकें नहीं तो आने वाले समय में किसान और खेत एक इतिहास बनकर रह जाएंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर