लाइव टीवी

संत रविदास पर हिमाचल में पहली बार बनाया गया पहाड़ी भजन रिलीज
Mandi News in Hindi

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 8, 2020, 5:00 PM IST
संत रविदास पर हिमाचल में पहली बार बनाया गया पहाड़ी भजन रिलीज
गुरु रविदास जयंती के मौके पर रिलीज किया गया 'काशी जाणा' भजन

संत रविदास जयंती के मौके पर बनाया गया पहला पहाड़ी भजन (Hymn on Saint Ravidas) मंडी (Mandi) में रिलीज किया गया. भजन को मंडी शहर के दीपू हिमाचली ने लिखा और गाया है जबकि संगीतकार शिमला के प्रभू नेगी हैं.

  • Share this:
मंडी. संत रविदास पर बना पहला पहाड़ी भजन (Hymn on Saint Ravidas) रिलीज हो गया है. संत रविदास जयंती के मौके पर इस भजन को मंडी (Mandi) में रिलीज किया गया. भजन को मंडी शहर के रविनगर निवासी दीपू हिमाचली ने लिखा और गाया है जबकि संगीतकार शिमला के प्रभू नेगी हैं. संत रविदास पर बनाया गया यह पहाड़ी भजन 'काशी जाणा' यू ट्यूब पर काफी लोकप्रिय हो रहा है. पूरा भजन पहाड़ी ताल पर बना है. इस भजन को गाने वाले मंडी शहर निवासी दीपू हिमाचली कई धार्मिक और सामाजिक जागरूकता के गाने गा चुके हैं.

हिमाचल के कई जगहों पर किया गया फिल्मांकन

दीपू ने बताया कि हिमाचल में पहली बार संत रविदास का भजन बनाया गया है. इसे बनाने के लिए श्री गुरु रविदास प्रचारक मण्डली ने उनका भरपूर साथ दिया है. इस भजन का फिल्मांकन पंडोह, मण्डी रविनगर, खलियार व व्यास नदी के किनारे किया गया है. दीपू ने बताया कि वे अभी तक लगभग 30 गीतों का
निर्देशन कर चुके हैं और सैकड़ों गीत लिख चुके हैं. उन्होंने खुद 8 गीत गाए हैं.

संत रविदास पर बनाए गए भजन का फिल्मांकन पंडोह, मण्डी रविनगर, खलियार व व्यास नदी के किनारे किया गया है.


श्री गुरु रविदास प्रचारक मण्डली के प्रधान विश्वनाथ ने इस धार्मिक कार्य के लिए पूरी टीम को बधाई दी. भजन विमोचन के समय गुरु रविदास प्रचारक मण्डली के तुलसी देवी, विद्या देवी और सीमा देवी के साथ अन्य लोग भी उपस्थित रहे.

ये भी पढ़ें - 'पार्टी का कार्यकर्ता होने के नाते दिल्ली चुनाव प्रचार में जाना जिम्मेदारी थी'ये भी पढ़ें - माघ मेला : पूरी धरती के लिए सुख समृद्धि की कामना करते हैं ग्रामीण

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 5:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर