मंडी: सरकारी कर्मचारियों ने की सांकेतिक पेन डाउन हड़ताल, 2 घंटे काम रखा ठप

मंडी में पेन डाउन स्ट्राइक.

कर्मचारी संघ ने मुख्यमंत्री द्वारा 6 मार्च को 2003 से 2017 के बीच भर्ती हुए कर्मचारियों के लिए ग्रेजुएटी की घोषणा की अधिसूचना भी जल्द लागू करने की मांग उठाई है.

  • Share this:
    मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी (Mandi) जिले में मंगलवार को नई पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर समस्त कर्मचारियों द्वारा प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में पेन डाउन हड़ताल (Pen Down Strike) की गई. इसी कड़ी में मंडी (Mandi) जिला में भी सुबह 11 से 1 बजे के बीच में सरकारी कार्यालयों में पेन डाउन स्ट्राइक की गई.

    महासंघ के मंडी जिला अध्यक्ष लेख राज ने बताया कि सभी पेंशनविहीन कर्मचारी लगातार अपनी पुरानी पेंशन बहाली के लिए प्रयासरत हैं, जिसके लिए समय-समय पर सरकार के समक्ष पुरानी पेंशन बहाली के लिए अपनी मांग विभिन्न तरीकों से रखी गई, लेकिन सरकार द्वारा अभी तक कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली बारे में कुछ नहीं किया गया है.

    बड़े आंदोलन की चेतावनी
    इस कारण पिछले कुछ समय से कर्मचारी पुरानी पेंशन बहाली के लिए आंदोलन कर रहे हैं. इसी के चलते मंडी जिला के 15 ब्लाकों में शिक्षा विभाग को छोडकर सभी सरकारी विभागों के कर्मचारियों ने दो घंटों के पेन डाउन स्ट्राइक की. उन्होंने कहा कि सरकार तुरंत पेंसन बहाल नहीं करती तो इससे भी बड़े बड़े आंदोलन हिमाचल प्रदेश में भविष्य में भी होने वाले हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम से अपना वादा निभाने का भी अनुरोध किया है, ताकि सरकारी कर्मचारियों का भविष्य अंधकारमय न हो.

    कर्मचारियों ने की मांग
    कर्मचारी संघ ने मुख्यमंत्री द्वारा 6 मार्च को 2003 से 2017 के बीच भर्ती हुए कर्मचारियों के लिए ग्रेजुएटी की घोषणा की अधिसूचना भी जल्द लागू करने की मांग उठाई है. न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर अभी भी पुरानी पंेशन बहाली की तरफ सरकार कोई कदम नहीं उठाती तो फिर आने वाले समय में बड़ा आंदोनल किया जाएगा।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.