Home /News /himachal-pradesh /

VIRAL VIDEO: ‘मंडयाली’ में बोले PM मोदी, देवी-देवतेया रा आशीर्वाद लैणे रा मौका मिल्या, सीटियां-तालियां बजीं

VIRAL VIDEO: ‘मंडयाली’ में बोले PM मोदी, देवी-देवतेया रा आशीर्वाद लैणे रा मौका मिल्या, सीटियां-तालियां बजीं

मंडी में पीएम मोदी को सीएम जयराम ठाकुर ने त्रिशूल भेंट किया है.

मंडी में पीएम मोदी को सीएम जयराम ठाकुर ने त्रिशूल भेंट किया है.

PM Modi Mandi Rally: पीएम ने कहा कि हिमाचल शिव और शक्ति का स्थान है. पंच कैलाश में से तीन कैलाश हिमाचल में हैं और कई शक्तिपीठ भी हिमाचल में हैं. बौद्ध आस्था और संस्कृति का भी अहम स्थान यहां मौजूद है. डबल इंजन की सरकार हिमाचल की इस ताकत को कई गुणा बढ़ाने वाली है. मंडी में शिव धाम का निर्माण इसी प्रतिबद्धता का परिणाम है.

अधिक पढ़ें ...

मंडी. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां भी रैली या कार्यक्रम के लिए जाते हैं. स्थानीय लोगों से कनेक्ट करने की कोशिश करते हैं. यही बात उन्हें लोगों से जोड़ती है और चर्चित बनाती है. मंडी में 27 दिसंबर को हिमाचल में भाजपा सरकार के चार साल के जश्न में मोदी ने ‘मंडयाली बोली’ में भाषण दिया. अब इसका वीडियो काफी वायरल हो रहा है. पीएम मोदी छोटी काशी मंडी में मंडयाली में भाषण का आगाज कर लोगों के दिल को छू गए.

पीएम ने अपने संबोधन की शुरुआत मंडयाली से करते हुए कहा कि, ‘ऐस ही महीने काशी विश्वनाथा रे दर्शन करने रे बाद…अज छोटी काशी मंझ बाबा भूतनाथ, पंचवक्त्र… कने….महामृत्युंजय रा आशीर्वाद लैणे रा मौका मिल्या. देवभूमि रे सभी देवी-देवतयां जो मेरा… नमन.’ इस पर पंडाल में मौजूद लोग जोर-जोर से तालियां और सीटियां बजाने लगे. पीएम ने कहा कि हिमाचल से मेरा हमेशा से एक भावनात्मक रिश्ता रहा है. हिमाचल की धरती और हिमालय के शिखरों ने मेरे जीवन को दिशा देने में अहम भूमिका निभाई है. मैं जब भी मंडी आता हूं तो मंडी की सेपू बड़ी, कचौरी और बदाने के मीठे की याद आ ही जाती है. उन्होंने कहा कि आज डबल इंजन सरकार के चार साल पूरे हुए हैं. सेवा और सिद्धि के चार सालों के लिए हिमाचल की जनता को बधाई देता हूं. बता दें कि साल 1999 में मोदी हिमाचल के प्रभारी रह चुके हैं. अक्सर जब भी वह हिमाचल आते हैं तो यहां बिताए दिनों की यादें ताजा करते रहते हैं.

सीएम जयराम ठाकुर ने सात फुट ऊंचा और करीब 25 किलो वजनी त्रिशूल भेंट किया. बताया जा रहा है कि त्रिशूल का ऊपर का हिस्सा अष्टधातु से बना है. इसमें लगा डमरू भी विशेष रूप से तैयार किया गया है और रूद्राक्ष के मनके भी खास हैं.

पीएम ने कहा कि हिमाचल शिव और शक्ति का स्थान है. पंच कैलाश में से तीन कैलाश हिमाचल में हैं और कई शक्तिपीठ भी हिमाचल में हैं. बौद्ध आस्था और संस्कृति का भी अहम स्थान यहां मौजूद है. डबल इंजन की सरकार हिमाचल की इस ताकत को कई गुणा बढ़ाने वाली है. मंडी में शिव धाम का निर्माण इसी प्रतिबद्धता का परिणाम है. जब पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है तब हिमाचल भी पूर्ण राज्यत्व की स्वर्ण जयंती मना रहा है. यह हिमाचल के लिए नई संभावनाओं पर काम करने का समय है.

हिमाचल प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्ज़ मीट की दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंडी में हिमाचल प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर्ज़ मीट की दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी की भी अध्यक्षता की. इस आयोजन में 28,197 करोड़ रुपये लागत की 287 निवेश योग्य परियोजनाओं को धरातल पर उतारा गया. इन परियोजनाओं से क्षेत्र में आर्थिक विकास को गति प्रदान करने के साथ-साथ लगभग एक लाख रोजगार के अवसर सृजित होने की सम्भावना है. मेगा परियोजनाओं में एसजेवीएनएल द्वारा 7000 करोड़ रुपये की लागत की रेणुकाजी बांध परियोजना, मैसर्ज़ एसएमपीपी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 2,000 करोड़ रुपये लागत का राज्य का पहला डिफेंस पार्क, मैसजऱ् किनवन प्राइवेट लिमिटिड द्वारा 850 करोड़ रुपये लागत की एपीआई इकाई, मैसजऱ् इंडो फार्म इक्विपमेंट लिमिटेड द्वारा 510 करोड़ रुपये लागत से राज्य का पहला डिफेंस पार्क शामिल हैं. इसके अलावा, उद्योग और ऊर्जा के साथ-साथ पर्यटन, स्वास्थ्य, आयुर्वेद आदि क्षेत्रों से सम्बन्धित परियोजनाएं भी धरातल पर उतारी गईं.

Tags: CM Jairam Thakur, Himachal Government, Himachal pradesh, Mandi City, PM Modi, Shimla News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर