Mandi: नेरचौक मेडिकल कालेज में छात्रा से रैगिंग, ट्यूटर बोला- खुले बालों में कॉलेज ना आएं

मंडी का नेरचौक मेडिकल कॉलेज.

मंडी का नेरचौक मेडिकल कॉलेज.

Ragging at Nerchowk Medical College: कॉलेज प्रबंधन ने पहले तो मामले को दबा दिया था, लेकिन बाद में यूजीसी की ओर से मामले में रिपोर्ट मांगी गई तो पुलिस के पास भी शिकायत दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 8:46 AM IST
  • Share this:
नेरचौक (मंडी). हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के नेरचौक मेडिकल कालेज (Nerchowk Medical College) में रैगिंग का मामला सामने आया है. फर्स्ट इयर की छात्रा ने एक सीनियर मेडिकल छात्र और ट्यूटर पर रैगिंग हैं. यह मामला रैगिंग कमेटी के पास भी पहुंचा था, लेकिन इस मामले को कमे‌टी ने रफा-दफा कर दिया. परिजनों ने जब इसकी शिकायत नेशनल एंटी रैगिंग हेल्पलाइन नंबर पर की तो विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने कालेज प्रबंधन से रिपोर्ट तलब की. इसके बाद कालेज प्रबंधन जागा और मेडिकल कालेज के प्राचार्य ने बल्ह पुलिस थाने में छात्रा से रैगिंग का केस दर्ज कराया.

शिकायत में परिजनों ने आरोप लगाए हैं कि फ्रेशर पार्टी के दौरान सीनियर ने परिचय के नाम पर तंग किया. परिजनों ने ट्यूटर पर आरोप लगाया कि उसने खुले बालों में कालेज ना आने का दबाव बनाकर तंग किया. नेरचौक मेडिकल कालेज के प्रिसिंपल आरसी ठाकुर ने कहा कि मामला एंटी रैगिंग कमेटी के पास पहुंचा था. पुलिस को इस संदर्भ में शिकायत दे दी गई है. आगामी कार्रवाई की जारी रही है.

क्या बोली पुलिस

एसपी मंडी शलिनी अग्निहोत्री ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि पुलिस ने अज्ञात ट्यूटर और सीनियर छात्र के खिलाफ ‌हिमाचल प्रदेश इंस्ट्टियूशन एक्ट 2009 और 294 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की है. युवती के पिता भी एक संस्थान में एचओडी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज