राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा न दें: प्रकाश चौधरी, पूर्व मंत्री

लोकसभा चुनावों में देश भर में हुई हार के बाद पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी का इस्तीफा देना कांग्रेस पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को गंवारा नहीं है.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 1, 2019, 12:58 PM IST
राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा न दें: प्रकाश चौधरी, पूर्व मंत्री
प्रकाश चौधरी, पूर्व मंत्री
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 1, 2019, 12:58 PM IST
कांग्रेस पार्टी की लोकसभा चुनावों में देश भर में हुई हार के बाद पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी का इस्तीफा देना कांग्रेस पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को गंवारा नहीं है. कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़े लोग चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी की कमान संभाले रखें और आने वाले समय में कांग्रेस को और ज्यादा मजबूती मिल सके. इसी बात को लेकर मंडी के गांधी भवन में एक बैठक का आयोजन किया गया. बैठक में संगठनात्मक जिला मंडी के सभी पदाधिकारी व सभी प्रमुख संगठनों के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने भाग लिया. इस बैठक की अध्यक्षता मंडी जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष शशि शर्मा ने की. बैठक में प्रस्ताव पारित किया गया कि आने वाले समय में देश में कांग्रेस पार्टी को राहुल गांधी की आवश्यकता है और ऐसी स्थिती में उन्हे अपने पद से दिया गया इस्तीफा वापिस लेना चाहिए. कांग्रेस पार्टी हाई कमान को भेजे गए प्रस्ताव में राहुल गांधी को अध्यक्ष पद नहीं छोड़ने का आग्रह किया है.

कांग्रेस राहुल के नेतृत्व में ही एकजुट हो सकती है

इस बैठक के उपरांत पूर्व में मंत्री रहे व कांग्रेस के नेता प्रकाश चौधरी ने कहा कि देश में कांग्रेस को एकजुट करना है तो वह राहुल गांधी के नेतृत्व में ही संभव हो सकता है. उन्होने कहा कि राहुल गांधी ने किसानों से कर्ज माफी का वादा किया था, वह उन्होने पूरा किया. प्रकाश चौधरी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा को कभी पूरे देश में मात्र दो सीटें मिली थी और आज वे जीते हैं, लेकिन उनका हौसला पस्त दिखाई दे रहा है.

पूरे देश में कांग्रेस पार्टी को समर्थन में कमी रही है

प्रकाश चौधरी ने भाजपा पर सत्ता हथियाने का आरोप भी लगाया. वहीं मंडी जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष शशि शर्मा ने इस मौके पर कहा कि पूरे देश से कांग्रेस पार्टी को समर्थन में कमी रही है और इसके पीछे के कारणों पर विचार करने के लिए आने वाली 4 जून को मंडी में एक समीक्षा बैठक का आयोजन किया जाएगा.

इस बैठक में चुनावों की समीक्षा के साथ आने वाले समय में एक मजबूत विपक्ष और लोगों का हितैषी बनकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला जाएगा. इसके साथ ही उन्होने कहा कि आने वाले समय में प्रदेश कांग्रेस को वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में और मजबूती देने का प्रयास किया जाएगा. इस बैठक में सुरेन्द्र पाल, चेत राम ठाकुर, ब्लॉक के अध्यक्ष, सभी प्रमुख कांग्रेस संगठनों के पदाधिकारी व कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें:  नागपुर बना आगपुर, तमतमाया राजस्थान, हिमाचल को सूरज की लगी नजर
VIDEO: गोविंद सागर झील पर बने एशिया के सबसे ऊंचे पुल में आईं दरारें
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...