Ramswaroop Suicide Case: परिजनों से बात करने के बाद होगा CBI जांच पर फैसला: CM

मंडी में भाजपा सांसद के अंतिम संस्कार में शामिल हुए सीएम जयराम ठाकुर.

मंडी में भाजपा सांसद के अंतिम संस्कार में शामिल हुए सीएम जयराम ठाकुर.

Ram Swaroop Sharma Suicide Case: रामस्वरूप शर्मा का जन्म 10 जून 1958 को हुआ था. राजनीति में कदम रखने से पहले वह सरकारी नौकरी करते थे. बाद में उन्होंने नौकरी छोड़ी और फिर राजनीति के दंगल में उतर गए थे.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) का कहना है कि दिवंगत सांसद राम स्वरूप शर्मा (Ram Swaroop Sharma Death) के परिजनों की मांग के अनुरूप उनकी आत्महत्या मामले की जांच पर आगामी कार्रवाई अम्ल में लाई जाएगी. यह बात उन्होंने गुरुवार को जोगिंद्रनगर (Joginder Nagar) में राम स्वरूप शर्मा के अंतिम संस्कार में भाग लेने के बाद कही. जयराम ठाकुर ने कहा कि मामले की जांच दिल्ली पुलिस (Delhi Police) कर रही है और इस संदर्भ में वहां मामला भी दर्ज हो चुका है. वह इस विषय पर परिवार के लोगों से मिलकर बात करेंगे और उसी आधार पर आगामी कार्रवाई पर निर्णय लिया जाएगा. सीबीआई जांच (CBI) या फिर राज्य सरकार की ऐजेंसी से जांच की मांग पर परिवार के लोगों से बातचीत के आधार पर ही आगामी निर्णय लिया जाएगा.

बड़े बेटे ने दी चिता को मुखाग्नि

इससे पहले सुबह करीब 9 बजे सांसद राम स्वरूप शर्मा का शव उनके पैतृक गांव जलपेहड़ पहुंचा, जहां परिजनों और अन्य लोगों को अंतिम दर्शन करवाए गए. इसके बाद अंतिम यात्रा शुरू हुई. स्थानीय शमशानघाट में सीएम जयराम ठाकुर सहित अन्य नेताओं ने सांसद राम स्वरूप शर्मा को श्रद्धांजलि देकर अंतिम विदाई दी. पुलिस गार्द ने अंतिम सलामी देकर हवाई फायर किए और मातमी धुन को बजाया. सांसद के सबसे बड़े बेटे ने अपने पिता की चिता को मुखाग्नि दी.

समाज के लिए बड़ी क्षति
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दिवंग्त आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की और इसे संगठन, सरकार व समाज के लिए एक अपूर्णिय क्षति बताया. उन्होंने कहा कि राम स्वरूप शर्मा संगठन और आम लोगों की सेवा के लिए समर्पित भाव से काम करते थे और उनकी कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकता.

मौके पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सहित पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल, कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, सरवीण चौधरी, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप, पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर, कौल सिंह ठाकुर, भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती, भाजपा और कांग्रेस के विधायक, पूर्व में कांग्रेस के प्रत्याशी रहे आश्रय शर्मा और अन्य नेता मौजूद रहे.  निधन की खबर मिलते ही पूरा क्षेत्र शोक में डूब गया था. गुरुवार को जोगिंद्रनगर बाजार सांसद के निधन पर पूरी तरह से बंद रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज