लाइव टीवी

'नशे को कहें न' थीम पर मनाया जाएगा रेडक्रॉस मेला, 15 को राज्यपाल करेंगे शुभारंभ

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 13, 2019, 6:56 AM IST
'नशे को कहें न' थीम पर मनाया जाएगा रेडक्रॉस मेला, 15 को राज्यपाल करेंगे शुभारंभ
राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय मंडी के सुदंरनगर में आयोजित होने वाले 7 दिवसीय जिला स्तरीय रेडक्रॉस मेले का उद्घाटन करेंगे.

रेडक्रॉस मेले (Red cross fair) की थीम नशा निवारण होगी और नशे को कहें ‘ना’ नारे के साथ युवाओं को नशे से बचने को लेकर जागरूक (Awareness) किया जाएगा. मेले में सभी विभाग अपनी कल्याणकारी योजनाओं (Welfare schemes) की जानकारी देने के लिए ‘हेल्प डेस्क’ लगाएंगे.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश के महामहिम राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय (Governor Bandaru Dattatreya) जिला मंडी (Mandi) के सुदंरनगर में आयोजित होने वाले 7 दिवसीय जिला स्तरीय रेडक्रॉस मेले (Red cross fair) का शुभारंभ करेंगे. शुभारंभ कार्यक्रम 15 दिसंबर को सुबह 11 बजे सुंदरनगर के जवाहर पार्क में होगा. वहीं मेले के समापन कार्यक्रम में 21 दिसंबर को राज्य रेडक्रॉस सोयायटी (State Red Cross Society) के अस्पताल कल्याण अनुभाग की अध्यक्ष डॉ. साधना ठाकुर बतौर मुख्यातिथि शिरकत करेंगी. जानकारी देते हुए एडीसी मंडी आशुतोष गर्ग ने बताया कि जिला प्रशासन ने रेडक्रॉस को
लेकर जन जागरूकता बढ़ाने और इससे जुड़ी गतिविधियों के व्यापक प्रचार-प्रसार के दृष्टिगत मेले को जिला मुख्यालय के बजाय उपमंडलों में मनाने का निर्णय लिया है. इस क्रम में जिला स्तरीय रेडक्रॉस मेले को इस बार सुंदरनगर में मनाया जा रहा है.

रेडक्रॉस मेले की थीम नशा निवारण होगी

गर्ग ने कहा कि इस बार रेडक्रॉस मेले की थीम नशा निवारण होगी और नशे को कहें ‘ना’ नारे के साथ युवाओं को नशे से बचने को लेकर जागरूक किया जाएगा. गर्ग ने सभी विभागों से मेले के सफल आयोजन के लिए आपसी तालमेल से काम करने का आग्रह किया है. उन्होंने कहा कि रेडक्रॉस मेले के आयोजन का उद्देश्य रेडक्रॉस गतिविधयों को लेकर आम लोगों में जागरूकता बढ़ाना है, जिससे जरूरतमंद लोग रेडक्रॉस से मिलने वाले लाभ लेने के लिए आ सकें.

सामाजिक कल्याण की गतिविधियों पर जोर दिया जाएगा

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि मेले में सभी विभागों के सहयोग से सामाजिक कल्याण की गतिविधियों पर खास जोर दिया जाएगा. हर दिन लोगों के लाभ के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. मेले में वरिष्ठ नागरिकों के लिए योग शिविर, आपदा प्रबंधन पर कार्यशाला, रक्त दान व स्वास्थ्य जांच शिविर जैसे कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. लोकरंजन के लिए बच्चों के फैंसी ड्रेस कंपीटीशन का आयोजन किया जाएगा. इसके अलावा शुभारंभ व समापन अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति
होगी.
एडीसी मंडी आशुतोष गर्ग ने सभी से मेले को सफल बनाने का आह्वान किया.


सभी विभाग योजनाओं की जानकारी देने के लिए ‘हेल्प डेस्क’ लगाएंगे

मेले में सभी विभाग अपनी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देने के लिए ‘हेल्प डेस्क’ लगाएंगे. मेले के दौरान जरूरतमंद लोगों को व्हील चेयर, श्रवण यंत्र इत्यादि भी वितरित किए जाएंगे. एडीसी मंडी ने कहा कि मेले के दौरान अधिक से अधिक लोगों को रेडक्रॉस गतिविधियों से जोड़ने पर जोर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि इससे लोगों के सहयोग से अधिक धनराशि एकत्र हो, जिससे निर्धन एवं असहाय लोगों की और सहायता हो सके. उन्होंने कहा कि जिला रेडक्रॉस सोसायटी जरूरतमंद लोगों को चिकित्सा
सहायता व सहायक यंत्र प्रदान करने के अलावा अस्पतालों में जन उपयोगी उपकरण उपलब्ध करवाने में लगी है.

ये भी पढ़ें - शिमला : सब्जी मंडी में सफेद प्याज के आने से कम हो सकते हैं लाल प्याज के दाम

ये भी पढ़ें - उद्योग मंत्री ने विधानसभा में बताया, 'सरकार ने 6,637 युवाओं को दिया रोजगार'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2019, 6:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर