लाइव टीवी

सराज की सड़कें चकाचक, नाचन की बदहाल, गुस्साए ‘नवाब साहब’ का VIDEO हुआ वायरल

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 6, 2019, 1:45 PM IST
सराज की सड़कें चकाचक, नाचन की बदहाल, गुस्साए ‘नवाब साहब’ का VIDEO हुआ वायरल
नाचन क्षेत्र की सड़क को पक्का ना करने पर विरोध जताते बंसत सिंह.

जब भेदभाव के आरोपों को लेकर थोड़ा और जाँच पड़ताल की गई तो मालूम हुआ कि सड़क के जिस हिस्से में हाल ही में टायरिंग हुई है, वह लोक निर्माण विभाग (PWD) के सराज डिवीजन (Siraj Division) का क्षेत्र है, जबकि दूसरी तरफ गोहर डिवीजन (Gohar Division) का हिस्सा है.

  • Share this:
मंडी. सोशल मीडिया (Social Media) पर ‘नवाब साहब’ के आरोपों का वीडियो (Video) जमकर वायरल हो रहा है. अगर आप किसी हैदराबादी नवाब के बारे में सोच रहे हैं तो यहां हम आपको बता दें कि यह ‘नवाब साहब’ सराज (Siraj) और नाचन (Nachan) विधानसभा क्षेत्र की सीमा पर बसे डुग्घल गांव के रहने वाले हैं. नवाब साहब का असली नाम बसंत राम है. 35 के बंसत सिंह खेतीबाड़ी करते हैं. इनका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल (Viral) हो रहा है.

यह है मामला
वीडियो में यह भाई साहब इनके क्षेत्र के साथ भेदभाव करने का आरोप लगा रहे हैं. 1 मिनट 56 सेकेंड के इस वीडियो में बंसत राम सड़क के बीच पत्थर और टहनियां रखकर इसे बंद करते हुए दिखाई दे रहे हैं. वीडियो बनाने वाला शख्स पूछता है कि नवाब साहब ये क्या कर रहे हैं? उसके बाद नवाब साहब बताते हैं कि जहां वह सड़क (Road) बन्द कर रहे हैं, वहां नाचन और सराज विधानसभा (Siraj Assembly) क्षेत्रों की सीमा है. सराज वाला क्षेत्र सीएम का होने के कारण वहां सड़क पक्की कर दी गई, जबकि नाचन के साथ भेदभाव करते हुए उसे दयनीय हालत में छोड़ा गया है.



बेकद्री का आरोप लगाया
आगे नवाब साहब बताते हैं कि वह मूल रूप से सराजी हैं और हालही में उनके इलाके को नाचन में शामिल किया गया है. लेकिन नाचन में आने पर हमारी बेकद्री की जा रही है. अगर ऐसा हुआ भी है तो क्या वह विकास से महरूम रह जाएं. इसी बात से खफा होकर सड़क बन्द की जा रही है. बीते कल से यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

वीडियो में क्षेत्र के साथ भेदभाव करने का आरोप लगा रहे हैं.
वीडियो में क्षेत्र के साथ भेदभाव करने का आरोप लगा रहे हैं.

Loading...

यह बोले नवाब साहब

वीडियो की जांच-पड़ताल पर बसन्त राम से न्यूज 18 ने बातचीत की. बसन्त राम ने वीडियो की पुष्टि की और बताया कि यह वीडियो 5 नवम्बर 2019 को शाम 5 बजे के करीब रिकार्ड किया है. बसंत राम ने बताया कि वह और उसका दोस्त डुग्घल गांव से जब घर जाने लगे तो सड़क पर टायरिंग में भेदभाव नजर आया. इसी बात को लेकर सड़क पर पत्थर और टहनियां रखकर उसे बंद करना चाहा, जिसका उसके मित्र ने वीडियो बना दिया और यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. बसन्त राम ने कहा कि उनके क्षेत्र के साथ भेदभाव हो रहा है और इससे वह आहत हैं.

अलग-अलग डिवीजन में दोनों इलाके
जब भेदभाव के आरोपों को लेकर थोड़ा और जाँच पड़ताल की गई तो मालूम हुआ कि सड़क के जिस हिस्से में हाल ही में टायरिंग हुई है, वह लोक निर्माण विभाग के सराज डिवीजन का क्षेत्र है, जबकि दूसरी तरफ गोहर डिवीजन का हिस्सा है. सराज डिवीजन को जो बजट जारी हुआ था,स उन्होंने अपने क्षेत्र में उसका सही इस्तेमाल कर दिया, जबकि दूसरे हिस्से को सुधारने का कार्य गोहर डिवीजन का है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में 700 मीटर गहरी खाई में गिरी कार, 3 लोगों की मौत, 2 घायल

हिमाचल: MLA-मंत्रियों का यात्रा भत्ता 60 फीसदी बढ़ा, गवर्नर की बिल को मंजूरी

हिमाचल की पहली इन्वेस्टर मीट: PM से मिले राज्यपाल, कल धर्मशाला आएंगे मोदी

अल्टीमेट फायटिंग लीग: रामपुर में खली का दंगल, भिड़ेंगे 6 देशों के रेसलर

हिमाचल में येलो एंड ऑरेंज अलर्ट: भारी बारिश और बर्फबारी का अनुमान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 11:42 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...