हिमाचल: दादा का सपना किया पूरा, मंडी का आशुतोष उड़ाएगा फाइटर प्लेन

मंडी जिले के उपमंडल धर्मपुर के पिपली गांव का आशुतोष सिंह चंदेल.

आशुतोष सिंह ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी माता अर्चना चन्देल,पिता शक्तिसिंह चन्देल भाई डाक्टर अखिलेश सिंह, ताया पूर्व न्यायाधीश बाली राम चन्देल और माना नरेन्द्र सिंह ठाकुर को दिया है. मंडी ज़िला के इस होनहार सैनिक पर समूचे क्षेत्र में प्रसन्नता की लहर व्याप्त है.

  • Share this:
    मंडी. हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के उपमंडल धर्मपुर के पिपली गांव का आशुतोष सिंह चंदेल फाइटर प्लेन उड़ाएगा. आशुतोष सिंह की प्राथमिक शिक्षा स्थानीय लॉर्ड्स कॉन्वेंट स्कूल में हुई और छठी से लेकर जमा डोकी परीक्षा उन्होंने सुजानपुर टिहरा के सैनिक स्कूल से की. वहां से उनका चयन प्रथम प्रयास में ही एनडीए खड़गवासला पूना के लिए हुआ और वहां तीन साल के कठोर प्रशिक्षण के बाद एक वर्ष का अतिरिक्त प्रशिक्षण वायुसेना एकेडमी हैदराबाद में हुआ, जहां उन्होंने फाइटर प्लेन उड़ाने का प्रशिक्षण प्राप्त किया.

    दादा भी सेना में थे

    आशुतोष के दादा स्वर्गीय कांशीराम चंदेल भी भारतीय सेना में एक अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुए थे और आशुतोष के अधिवक्ता पिता शक्ति सिंह चन्देल ने बताया कि वह अपने दादा के साथ उनके मेडलों को देखकर हमेशा सेना में जाने की बात करता था और उसकी रुचि फाइटर प्लेन के पॉयलट बनने की थी, जिसको उसने पूरा कर के दिखाया.

    शुरू से ही होनहार था आशुतोष

    आशुतोष हमेशा से ही अपनी कक्षा में प्रथम स्थान पर रहता था और वह फुटबॉल का एक होनहार खिलाड़ी भी है. 19 जून की पासिंग परेड को उसके स्वजनों ने वर्चुअल रूप से देखा. आशुतोष सिंह ने अपनी सफलता का श्रेय अपनी माता अर्चना चन्देल,पिता शक्तिसिंह चन्देल भाई डाक्टर अखिलेश सिंह, ताया पूर्व न्यायाधीश बाली राम चन्देल और माना नरेन्द्र सिंह ठाकुर को दिया है. मंडी ज़िला के इस होनहार सैनिक पर समूचे क्षेत्र में प्रसन्नता की लहर व्याप्त है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.