पराशर हादसा: गाड़ियों से FIRST AID बॉक्स निकलवा जान बचाने में जुट गए दिल्ली के डॉक्टर साहब

दिल्ली से पराशर घूमने जा रहे सिख डॉक्टर ने घटनास्थल पर खड़े वाहनों में से FIRST AID बॉक्स निकलवाई और घायलों की जान बचाने में जुट गए.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 30, 2019, 6:55 PM IST
पराशर हादसा: गाड़ियों से FIRST AID बॉक्स निकलवा जान बचाने में जुट गए दिल्ली के डॉक्टर साहब
दिल्ली से पराशर घूमने आए ​इस डॉक्टर (सफेद टीशर्ट में) ने घायलों की जान बचाने में जान लगा दी
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 30, 2019, 6:55 PM IST
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के धार्मिक पर्यटन स्‍थल पराशर से वापस लौट रही एक टैंपो ट्रेक्‍स रविवार दोपहर को सुक्‍कासर के समीप खाई में जा गिरी. इस टैम्पो में 18 लोग सवार थे. इनमें से दो लोगों की मौत कटौला सीएचसी में उपचार के दौरान हो गई. इन दिनों पराशर झील देखने भारी संख्या में पर्यटक आते हैं. यहां टैम्पो ट्रेक्स के खाई में गिरने के बाद घटनास्थल से गुजर रहे बहुत लोग घायलों की सहायता के लिए रुक गए. खाई में गिरे घायल लोगों को निकालना शुरू कर दिया. इनमें ज्यादातर लोग बुरी तरह से घायल हालत में पड़े हुए थे. हादसे की सूचना मिलते ही मंडी और कटौला से एम्बुलेंस रवाना कर दी गयी थी, मगर घटनास्थल तक पहुंचने में कम से कम 1-2 घंटे का समय लगता था.

दिल्ली से घूमने के लिए आए थे डॉक्टर साहब

इस खबर में जो फोटो लगाई है उसमें एक सिख भी हैं. ये जनाब दिल्ली के हैं और पेशे से डाक्टर हैं. ये भी पराशर झील घूमने जा रहे थे. घायलों की मदद के लिए वे रुक गए और अपने आसपास वहां खड़ी गाड़ियों से फर्स्ट ऐड बॉक्स निकलवाई और सभी का प्राथमिक उपचार करना शुरू कर दिया.

लोग नम आंखों से डॉक्टर का कर रहे थे धन्यवाद

घायलों की सहायता के लिए घटनास्थाल पर एम्बुलेंस को पहुंचने में एक घंटे से ज्यादा का समय लगा तब तक डॉक्टर साहब लोगों की जान बचाने के लिए जुटे. घटनास्थल पर मौजूद सभी स्थानीय लोग डॉक्टर साहब को हृदय से धन्यवाद कह रहे थे.

यह भी पढ़ें: VIDEO: बिलासपुर में फैंसिंग करने को लेकर खूनी झड़प, दो घायल

मिट्टी का बर्तन बेचकर गुजारा चला रहे हैं शहीद के मां पिता
First published: June 30, 2019, 5:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...