लाइव टीवी

मंडी जिले में तीन बैलों की संदिग्ध मौत, जहर देकर मारने की आशंका

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 19, 2019, 7:32 PM IST
मंडी जिले में तीन बैलों की संदिग्ध मौत, जहर देकर मारने की आशंका
मंडी जिले के कलखर में तीन आवारा बैलों की संदिग्ध मौत पूरे इलाके में चर्चा में है.

मंडी जिले के कलखर में तीन आवारा बैलों की संदिग्ध मौत पूरे इलाके में चर्चा में है. लोग यह आशंका जता रहे हैं कि किसी ने इन बैलों को जहर देकर मौत के घाट उतारा है.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश में मंडी जिले (Mandi District) के कलखर में तीन आवारा बैलों (OX) की संदिग्ध मौत पूरे इलाके में चर्चा में है. लोग आपसी बातचीत में यह आशंका जता रहे हैं कि किसी ने इन बैलों को जहर (Poisen) देकर मौत के घाट उतारा है. वहीं हटली थाना पुलिस ने पशु विशेषज्ञों और फारेंसिक टीम (Forensic Team) के साथ मौके पर आकर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करके कार्रवाही शुरू कर दी है. मिली जानकारी के अनुसार जाहू-नेरचैक सुपर हाईवे पर कलखर के पास मौजूद पैट्रोल पंप के पास तीन आवारा बैल मृत अवस्था में पाए गए. तीनों के शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं थे. स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना हटली पुलिस थाना को दी. पुलिस टीम ने मौके पर आकर मामले की जांच शुरू कर दी है.

स्थानीय लोगों ने जेसीबी की मदद से बैलों को दफनाया

पशु विशेषज्ञ सहित मंडी से आई फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल का दौरा करके सारे साक्ष्य जुटा लिए हैं और उन्हें जांच के लिए लैब भेज दिया गया है. हटली थाना प्रभारी राजेश शर्मा ने पुष्टि करते हुए बताया कि अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करके कार्रवाही शुरू कर दी गई है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगामी कार्रवाही अमल में लाई जाएगी. वहीं स्थानीय लोगों और जेसीबी मशीन की मदद से तीनों आवारा बैलों को जमीन में दफना दिया गया है.

यह भी पढ़ें: BJP सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा, गांधी की हत्या का सीधा फायदा नेहरू को हुआ

 VIRAL VIDEO: स्कूल में घुसकर शराबी ने इतना हुडदंग मचाया कि बच्चे जोर-जोर से रोने लगे

VIDEO VIRAL: महिला और पुरुष की लात, घूंसे, थ्प्पड़ और बेलन से हुई पिटाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 7:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...