लाइव टीवी

दीपावली के दिन सुंदरनगर में कुत्तों का आतंक, 9 बच्चों को काट किया लहूलुहान

Nitesh Saini | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 28, 2019, 11:36 PM IST
दीपावली के दिन सुंदरनगर में कुत्तों का आतंक, 9 बच्चों को काट किया लहूलुहान
लोगों ने प्रशासन व नगर परिषद से मांग की है कि वे पागल कुत्तों की पहचान कर उचित कार्रवाई करें.

कुत्तों के काटने से बच्चों व महिलाओं के लहूलुहान होने से घर पर दीपावली के लिए की गई तैयारियां भी धरी रह गईं.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल के मंडी (Mandi) जिला के सुंदरनगर (Sundernagar) में इस वर्ष प्रशासन व नगर परिषद की लापरवाही के चलते लोग आवारा कुत्तों (Stray Dogs) के काटने से लगातार घायल हो रहे हैं. नगर परिषद के भोजपुर व अंबेडकर नगर वार्ड में रविवार को दिवाली (Deepawali) के दिन 9 बच्चों सहित एक दर्जन लोग पागल कुत्तों के काटने का शिकार हो गए. कुत्तों के काटने से घायल हुए बच्चों को नागरिक अस्पताल (Civil Hospital) में उपचार के लिए पहुंचाया गया, जहां देर शाम तक उनका उपचार होता रहा. कुछ बच्चों के हाथ पर काटने से उनकी उंगलियों की हड्डियां भी फ्रैक्चर हो गई हैं.

कुत्तों के काटने से बच्चों व महिलाओं के लहूलुहान होने से घर पर दीपावली के लिए की गई तैयारियां भी धरी रह गईं. रविवार दोपहर अंबेडकर नगर वार्ड में स्थित बस स्टैंड के पास से खारसी और भोजपुर तक कुत्तों के निशाने पर 4 से लेकर 14 साल तक के 9 बच्चे व 3 महिलाएं रहीं.

पागल कुत्तों के निशाने पर बच्चे

दीपावली के दिन पागल कुत्तों के निशाने पर जो बच्चे रहे वे सभी दीपावली की खुशी में अपने घर के आसपास ही खेल रहे थे. बच्चों पर कुत्तों के हमले के दौरान जब तीन महिलाओं ने बीच बचाव का प्रयास किया तो वे भी निशाने पर आ गईं. कुत्तों के हमले में महिलाओं के कपड़े तो फटे, लेकिन उनके दांत और नाखून शरीर पर लगने से बच गए. अस्पताल में पहुंचे बच्चों की पहचान रिषी (11) पुत्र साहिब निवासी निकट बस स्टैंड, भारत (8) पुत्र राम लाल निवासी अंबेडकर नगर, सात्विक (4) पुत्र प्रेम लाल निवासी खारसी व अंकित (9) देवस्या (7) पुत्र रुपेंद्र निवासी भोजपुर, अमनदीप (8) पुत्र राजू निवासी निकट बस स्टैंड, राजवीर (11) पुत्र बंटी निवासी निकट बस स्टैंड, नितेश (12), काव्यांश (10) पुत्र राकेश कुमार के रूप में हुई है. सुंदर नगर स्थित नागरिक अस्पताल के प्रभारी डॉ. चमन ठाकुर ने बताया कि कुत्तों के काटने से घायल हुए सभी बच्चों का उपचार शुरू कर दिया गया है.

पागल कुत्तों से मुक्ति की मांग

सभी बच्चों को एंटी रेबीज के इंजेक्शन भी लगाने शुरू कर दिए गए हैं. इधर, स्थानीय लोगों ने प्रशासन व नगर परिषद से मांग की है कि वे पागल हुए कुत्तों की पहचान कर उचित कार्रवाई करें. लोगों ने अपनी शिकायत में कहा है कि पागल कुत्तों के कारण उनकी जिंदगी को भी खतरा हो सकता है.

ये भी पढ़ें - बदमाशों ने ट्रैक्टर ट्राली सहित किया युवक का अपहरण, पुलिस ने कराया मुक्त
Loading...

ये भी पढ़ें - लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी सुप्रीमो ने जनता से कहा- हमारी हार नहीं, जीत हुई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 28, 2019, 11:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...