लाइव टीवी

काशी से आए पंडितों ने गंगा की तर्ज पर व्यास की उतारी आरती, CM जयराम भी हुए शामिल

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 5, 2019, 1:51 PM IST
काशी से आए पंडितों ने गंगा की तर्ज पर व्यास की उतारी आरती, CM जयराम भी हुए शामिल
पंचवक्त्र मंदिर के पास व्यास नदी के तट पर व्यास आरती का प्रबंध किया गया था.

सीएम जयराम ठाकुर विशेष रूप से कार्यक्रम में मौजूद हुए और व्यास नदी की विधिवत पूजा अर्चना करके आरती उतारी.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल प्रदेश के  मंडी में पहली बार आयोजित किए जा रहे छोटी काशी महोत्सव (Chhoti Kashi Festival) में व्यास नदी (Beas river) आकर्षण का मुख्य केंद्र रही. जिला प्रशासन ने पंचवक्त्र मंदिर के पास व्यास नदी के तट पर व्यास आरती का प्रबंध किया था. इस कार्यक्रम में सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) विशेष रूप से मौजूद हुए और व्यास नदी की विधिवत पूजा अर्चना करके आरती उतारी. व्यास आरती करने के लिए जिला प्रशासन ने काशी (Kashi) से उन पंडितों को बुलाया था जो गंगा आरती करते हैं. गंगा (Ganga) की तर्ज पर इन पंडितों ने पूरे विधि विधान के साथ व्यास नदी की आरती उतारी. इस अलौकिक दृश्य को देखने के लिए मंडी जिला के लोग विशेष रूप से यहां आए हुए थे.

व्यास नदी में मिट्टी के दीए बहाए

लोगों ने व्यास आरती में भाग लिया और उसके बाद नदी में दीप दान किया. हजारों की संख्या में मिट्टी से बने दिए व्यास नदी में प्रवाहित किए गए. यह पहला मौका था जब मंडी शहर में व्यास नदी की इस तरह से आरती उतारी गई हो. हालांकि हर महीने एकादश रूद्र मंदिर के पास व्यास आरती की जाती है लेकिन इस बार यह बड़े स्तर पर की गई जिसमें सीएम भी मौजूद रहे.



छोटी काशी उत्सव भविष्य में और भव्य ढंग से मनाया जाएगा: सीएम

व्यास आरती के बाद मीडिया कर्मियों से बातचीत करते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि छोटी काशी उत्सव के साथ व्यास आरती को जोड़ा गया है. उन्होंने कहा कि अभी यह शुरूआत है और भविष्य में इसे और भी बड़े और बेहतर ढंग से आयोजित किया जाएगा ताकि यह शहर का मुख्य आकर्षण बन सके.

Pandit
व्यास नदी की आरती करने के लिए जिला प्रशासन ने काशी से उन पंडितों को बुलाया था जो गंगा आरती करते हैं.

Loading...

आरती के लिए उचित जगह की तलाश की जा रही है

जयराम ठाकुर ने बताया कि राज्य सरकार व्यास नदी के तट पर घाटों का निर्माण करवाने जा रही है, जिसके लिए उचित स्थान की तलाश की जा रही है. उन्होंने बताया कि नदी के तट पर निर्माण कार्य करवाना आसान काम नहीं है. यही वजह है कि उचित स्थान की तलाश की जा रही है. उचित स्थान मिलने के तत्काल बाद वहां पर सुंदर घाट का निर्माण किया जाएगा.

ये भी रहे मौजूद

इस मौके पर सांसद राम स्वरूप शर्मा, सदर के विधायक अनिल शर्मा, बल्ह के विधायक इंद्र सिंह गांधी और सुंदरनगर के विधायक राकेश जम्वाल सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी और स्थानीय लोग भी मौजूद रहे.

Aarti
सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि छोटी काशी उत्सव के साथ व्यास आरती को जोड़ा गया है.


यह भी पढ़ें: 73 पुलिस कांस्टेबल पद की परीक्षा में सिर्फ 52 का चयन , भाई-बहन हुए सिलेक्ट 

मृतक पुलिस जवान के परिजनों ने लगाया आरोप, बेटे की पुलिस कर्मियों ने की हत्या

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मंडी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 1:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...