Home /News /himachal-pradesh /

लोकसभा चुनाव 2019: जाने क्यों, मंडी सीट पर दो EVMs से होगा मतदान

लोकसभा चुनाव 2019: जाने क्यों, मंडी सीट पर दो EVMs से होगा मतदान

मंडी  में वोटिंग की तैयारी.

मंडी में वोटिंग की तैयारी.

मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत 6 जिलों के कुल 17 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, इनमें मंडी के 9 विधानसभा क्षेत्रों के अलावा कुल्लू के चार विधानसभा क्षेत्र, शिमला के रामपुर और चंबा के भरमौर क्षेत्र के साथ किन्नौर एवं लाहुल-स्पीति विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं.

अधिक पढ़ें ...
    हिमाचल प्रदेश के मंडी संसदीय क्षेत्र पहली बार दो ईवीएम मशीनों से मतदान करवाने के लिए पूरी तरह से तैयार है. सभी पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्रों में पहुंच चुकी हैं और अंतिम तैयारियां मुक्कमल कर ली गई हैं. यह जानकारी जिला निर्वाचन अधिकारी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने न्यूज18 संवाददता को दी है.

    उन्होंने बताया कि मंडी संसदीय सीट पर प्रत्याशियों की संख्या 16 से अधिक हो गई है. यहां 17 प्रत्याशी मैदान में हैं और 18वें आप्शन के रूप में नोटा रहेगा. एक ईवीएम पर अधिकतर 16 प्रत्याशियों के ही नाम होते हैं, ऐसे में इस बार मतदान करवाने के लिए दो ईवीएम का सहारा लिया जा रहा है. इसके लिए मंडी तीन हजार अतिरिक्त ईवीएम मंडी पहुंच चुकी हैं और इन्हें सभी पोलिंग बूथों के लिए भेज दिया गया है.

    उन्होंने बताया कि मतदान की सभी तैयारियों को पूरा कर लिया गया है और रविवार सुबह 7 बजे से मतदान की प्रक्रिया आरंभ हो जाएगी. शाम 6 बजे तक मतदान की प्रक्रिया चलेगी और उस वक्त तक जो भी लोग लाईनों में खड़े होंगे उन सभी को मतदान करने का मौका दिया जाएगा. जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी से अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने का आहवान किया है, ताकि लोकतंत्र को मजबूत किया जा सके और भावी प्रतिनिधियों का चयन किया जा सके.

    17 विधानसभा हैं मंडी में
    बता दें कि मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत 6 जिलों के कुल 17 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, इनमें मंडी के 9 विधानसभा क्षेत्रों के अलावा कुल्लू के चार विधानसभा क्षेत्र, शिमला के रामपुर और चंबा के भरमौर क्षेत्र के साथ किन्नौर एवं लाहुल-स्पीति विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं.

    करीब 13 लाख वोटर
    मंडी संसदीय क्षेत्र में कुल 12 लाख 81 हजार 462 मतदाता हैं. इनमें 6 लाख 30 हजार 661 महिला मतदाता और 6 लाख 50 हजार 796 पुरूष वोटर हैं. सर्विस वोटर की संख्या 13747 हैं. इसके साथ ही तीसरे जेंडर के 5 मतदाता हैं. मंडी जिला में 18-19 वर्ष के 25500 युवा पहली बार इन चुनावों में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. मंडी संसदीय क्षेत्र में हर विधानसभा हल्के में दो मतदान केंद्र महिला कर्मियों द्वारा संचालित होंगे.

    34 मतदान केंद्र ऐसे होंगे, जिनपर महिला कर्मी
    इस प्रकार पूरे संसदीय क्षेत्र में 34 मतदान केंद्र ऐसे होंगे, जिनपर महिला कर्मी ही मतदान करवाएंगी. इसी प्रकार मंडी संसदीय क्षेत्र में हर विधानसभा हल्के में दो आदर्श मतदान केंद्र बनाए जाएंगे. यहां मतदाताओं के लिए विशेष सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी. 4 ऑक्जिलरी मतदान केंद्र बनाए गए हैं. इनमें दो बूथ उपमंडल सुंदरनगर में बनेड़ 11-ए एवं उपमंडल बल्ह में वृृद्ध आश्रम भंगरोटू 60-ए और एक-एक कुल्लू और काजा में है. मंडी संसदीय क्षेत्र में मतदान संपन्न करवाने के लिए 2083 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

    340 बसें भी चुनावी ड्यूटी पर
    मतदान के लिए 5693 बैलेट यूनिट, 2682 कंट्रोल यूनिट और 2800 वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा. मतदान प्रक्रिया को ठीक तरीके से पूरा करने के लिए 11300 कर्मियों की जरूरत है. रिजर्व में रखे कर्मियों सहित कुल 13116 कर्मी इलेक्शन ड्यूटी के लिए उपलब्ध हैं. चुनाव कर्मियों की आवाजाही के लिए 340 बसें लगाई जाएंगी.

    कोटखाई गैंगरेप में थाना फूंकने का आरोपी रेप केस में गिरफ्तार

    VIDEO: चिट्टे के पैसे को लेकर ट्रक से कुचल डाला युवक, मौत

    शिमला: गले में चिकन का टुकड़ा फंसने से चौकीदार की मौत

    कुल्लू में चुनावी ड्यूटी में तैनात कर्मचारी की मौत

    कांगड़ा में हादसा, दो दिन खाई में गिरी रही कार,1 शख्स की मौत

    Tags: Election commission, Lok Sabha Election 2019, Mandi, Mandi S08p02

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर