लारजी डैम से छोड़ा गया पानी, ब्यास के जलस्तर में हुआ भारी इजाफा

मंडी जिले में लारजी डैम से पानी छोड़ा गया है. पानी छोड़ने की यह प्रक्रिया कल सुबह 6 बजे तक जारी रहेगी.

Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 23, 2019, 2:15 PM IST
Virender Bhardwaj
Virender Bhardwaj | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 23, 2019, 2:15 PM IST
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में लारजी डैम से पानी छोड़ा गया है. पानी छोड़ने की यह प्रक्रिया कल सुबह 6 बजे तक जारी रहेगी. हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी डैम से गाद निकासी के लिए फ्लशिंग की यह प्रक्रिया अपनाई जा रही है. यहां वर्ष भर पानी के साथ बड़ी मात्रा में गाद आती है जो डैम के पास जमा हो जाती है. ऐसे में इस गाद को न निकाला जाए तो इससे डैम पर खतरा मंडराने लग जाता है. यही वजह है कि हर साल बरसात से पहले एक बार डैम की फ्लशिंग की जाती है. इसके लिए डैम के सभी पांचों गेट खोल दिए गए हैं और ब्यास नदी में भारी मात्रा में पानी छोड़ा गया है. लारजी पावर हाउस के आवासीय अभियंता दीपक वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि पानी छोड़ने की पूर्व सूचना जारी कर दी गई थी और सुबह पानी छोड़ने से पहले सायरन व्हीकल को नेशनल हाईवे पर दौड़ाया गया था.

ब्यास नदी के किनारे पर्यटकों से नहीं जाने की अपील

लारजी पावर हाउस के आवासीय अभियंता दीपक वर्मा ने बताया कि स्थानीय लोगों और बाहर से आने वाले पर्यटकों से ब्यास नदी के किनारे न जाने का आह्वान किया गया है. वहीं लारजी डैम से पानी छोड़ने के कारण पंडोह डैम पर अधिक दबाव बढ़ गया है. पंडोह डैम के जलस्तर में भी लगातार ईजाफा हो रहा है. अगर पानी खतरे के निशान तक पहुंच गया तो वहां से भी पानी छोड़ा जा सकता है.

यह भी पढ़ें: हिमाचल : पहाड़ी दरकने से दर्दनाक हादसा, दो बाइक सवार पर्यटकों की मौत

यहां हैं दो एंबुलेंस, कभी गाड़ी खराब तो कभी ड्राइवर नदारद
First published: June 23, 2019, 2:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...