Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल: क्या दोबारा बीजेपी में जाएंगे आश्रय शर्मा? मंडी में CM जयराम से बंद कमरे में मिले

हिमाचल: क्या दोबारा बीजेपी में जाएंगे आश्रय शर्मा? मंडी में CM जयराम से बंद कमरे में मिले

 सीएम जयराम ठाकुर कहीं जाने वाले थे लेकिन आश्रय शर्मा के आते ही उन्हें अपने कमरे में ले गए.

सीएम जयराम ठाकुर कहीं जाने वाले थे लेकिन आश्रय शर्मा के आते ही उन्हें अपने कमरे में ले गए.

आश्रय शर्मा (Aashray Sharma) की सीएम जयराम ठाकुर के साथ हुई मुलाकात के बाद अब एक बार फिर से चर्चा तेज हो गई है कि क्या आश्रय शर्मा दोबारा से भाजपा में जाने वाले हैं. बता दें कि 2017 के विधानसभा चुनावों में आश्रय शर्मा और पंडित सुखराम के कहने पर ही यह परिवार भाजपा में शामिल हुआ था.

अधिक पढ़ें ...

मंडी. मंडी लोकसभा के उपचुनाव में मिली हार के बाद मंथन करने मंडी पहुंचे सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) से कांग्रेस नेता आश्रय शर्मा ने मुलाकात (Meeting With Ashray Sharma) की है. यह मुलाकात आज शाम करीब साढ़े 7 बजे सर्किट हाउस मंडी (Circuit House Mandi) में हुई है. सर्किट हाउस में उपस्थित भाजपा नेता उस वक्त स्तब्ध रह गए जब आश्रय शर्मा यहां सीएम जयराम ठाकुर से मिलने पहुंचे. सीएम जयराम ठाकुर कहीं जाने वाले थे लेकिन आश्रय शर्मा के आते ही उन्हें अपने कमरे में ले गए. बताया जा रहा है कि करीब 10 मिनट तक दोनों में बंद कमरे में गुफ्तगूं हुई है. आश्रय शर्मा से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने माना कि उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर से मुलाकात की है, लेकिन यह सिर्फ एक शिष्टाचार भेंट थी और इस दौरान सदर क्षेत्र के विकास कार्यों को लेकर चर्चा की गई है. इससे ज्यादा उन्होंने इस विषय पर और कुछ नहीं कहा.

आश्रय शर्मा की सीएम जयराम ठाकुर के साथ हुई मुलाकात के बाद अब एक बार फिर से चर्चा तेज हो गई है कि क्या आश्रय शर्मा दोबारा से भाजपा में जाने वाले हैं. बता दें कि 2017 के विधानसभा चुनावों में आश्रय शर्मा और पंडित सुखराम के कहने पर ही यह परिवार भाजपा में शामिल हुआ था. आश्रय के पिता अनिल शर्मा को सदर से भाजपा ने टिकट दिया और उन्होंने जीत हासिल करके मौजूदा सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा पाया. लेकिन 2019 के लोकसभा चुनावों में टिकट न मिलने से खफा आश्रय शर्मा और उनके दादा दोबारा से कांग्रेस में शामिल हो गए और कांग्रेस के टिकट पर यहां से चुनाव लड़ा.

इसका पता भविष्य में ही चल पाएगा
अभी हालही में हुए उपचुनाव में उन्हें पार्टी की तरफ से टिकट नहीं मिला. सदर क्षेत्र की बात करें तो यहां से भाजपा को तीन हजार से अधिक मतों की बढ़त मिली है. जबकि मंडी संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले दो मंत्रियों के गृहक्षेत्रों से भाजपा को लीड़ नहीं मिली है. चुनावों के दौरान अनिल शर्मा को भी सीएम जयराम ठाकुर ने पार्टी के लिए काम करने के लिए कहा था और उनके मान सम्मान को बरकरार रखने की बात कही थी. अब इन सब बातों के आधार पर आश्रय शर्मा का सीएम जयराम ठाकुर से मिलना, कई सवाल खड़े कर रहा है. बहरहाल यह मुलाकात भविष्य में क्या रंग दिखाएगी, इसका पता भविष्य में ही चल पाएगा.

Tags: CM Jairam Thakur, Congress, Himachal pradesh news, Mandi news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर