लाइव टीवी

फायर सीजन के चलते वन कर्मियों की छुट्टियां रद्द, वन विभाग ने टोल फ्री नंबर किया जारी
Nahan News in Hindi

satish sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: April 24, 2019, 3:38 PM IST
फायर सीजन के चलते वन कर्मियों की छुट्टियां रद्द, वन विभाग ने टोल फ्री नंबर किया जारी
फाइल फोटो

हिमाचल प्रदेश में गर्मियों के मौसम आते ही वन विभाग का फायर सीजन शुरू हो गया है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश में गर्मियों के मौसम आते ही वन विभाग का फायर सीजन शुरू हो गया है. इस वर्ष फायर सीजन को देखते हुए विभाग ने मास्टर प्लान भी तैयार कर लिया है. वनकर्मियों का मकसद है कि इस फायर सीजन में ज्यादा से ज्यादा वनों को आग से बचाया जा सके. गर्मियों के सीजन में जंगलों में आग लगने की घटनाएं भी ज्यादा होने लग जाती हैं. इस बार फायर सीजन शुरू होते ही वन विभाग पूरी तरह से चौकन्ना हो गया है. विभाग द्वारा एक टोलफ्री नंबर जारी कर दिया गया है, जिसपर किसी भी समय जंगलों में आग लगने की घटना की जानकारी विभाग को दी जा सकती है. विभाग द्वारा वनकर्मियों के अवकाश भी रद्द कर दिए गए हैं. मुख्य अरण्यपाल नाहन वन वृत बीएल नेगी ने बताया कि वनों को आग से बचाने के लिए विभाग पूरी तरह से मुस्तैद हैं.

उन्होंने बताया कि इस बार नाहन समेत पूरे जिले में आग बुझाने के लिए जरुरी उपकरण से लैस वाहनों को तैयार किया जा रहा है, जिसमें पानी के टैंक समेत मोटर भी लगाईं जाएगी ताकि जरुरत पड़ने पर आग पर काबू पाया जा सके.

वन विभाग बहुमूल्य वन संपदा को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों के खिलाफ भी कड़ी कार्यवाही करने का मन बना चुका है. मुख्य अरण्यपाल बीएल नेगी ने कहा कि जंगलों में आग लगाने वाले व्यक्ति को किसी भी कीमत पर बक्शा नहीं जाएगा.

उन्होंने कहा कि आग लगाने वाले व्यक्ति के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करवाया जाएगा. उन्होंने कहा कि सड़क किनारे से आग ना लग सके. इसके लिए सड़क के दोनों तरफ 3 मीटर तक के स्थान से पत्तियों को हटाने के लिए ब्लोअर का उपयोग किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि हर साल आग से वन संपदा को करोड़ों का नुकसान होता है. इस सीजन में वन विभाग वनों को आग से बचाने के दावे कर रहा है कि देखना होगा कि वनों को बचाने में विभाग कितना कामयाब हो पाता है.

यह भी पढ़ें: CM के आनंद शर्मा पर दिए बयान पर कुलदीप बोले-'जयराम व्यक्तिगत बयानबाजी से बचें'

वे टैक्स भरते हैं इसलिए सीएम और सांसद से सवाल पूछ सकते हैं: आश्रय शर्माआनंद शर्मा कभी नहीं लड़े चुनाव, वे जुगाड़ू नेता हैं: सीएम जयराम ठाकुर

 VIDEO: इस स्कूल भवन को 2011 में किया असुरक्षित घोषित, फिर भी चल रही हैं कक्षाएं

VIDEO: ओलावृष्टि ने बढ़ाई सेब बागवानों की चिंता, इन जिलों में हुआ ज्यादा नुकसान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 24, 2019, 3:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर