यहां स्पेशलिस्ट डॉक्टर के पद खाली हैं, इलाज के जाना पड़ता है पड़ोसी राज्य

सिविल अस्पताल पांवटा साहिब के बाहर का दृश्य
सिविल अस्पताल पांवटा साहिब के बाहर का दृश्य

हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब के सिविल अस्पताल में लम्बे अरसे से विशेषज्ञ चिकित्सकों का अभाव बरकरार है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब के सिविल अस्पताल में लम्बे अरसे से विशेषज्ञ चिकित्सकों का अभाव बरकरार है. मरीजों को छोटे से ऑपरेशन तक के लिए पड़ोसी राज्यों का रुख करना पड़ता है. स्थानीय लोगों ने सरकार से विशेषज्ञ चिकित्सकों को तत्काल प्रभाव से नियुक्त करने की मांग की है.

स्वास्थय विभाग ने वैसे तो पांवटा साहिब में अस्पताल की बहुमंजिला इमारत खड़ी कर दी है लेकिन यहां सिर्फ छोटी -मोटी बीमारियों का ही इलाज संभव हो सका है. हालांकि, यहां रोजाना सैंकड़ों लोग जांच करवाने पहुंचते हैं लेकिन उन्हें गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए पड़ोसी राज्य पहुंचना पड़ता है.

गौरतलब है कि पांवटा साहिब के सिविल अस्पताल में कई वर्षों से सर्जन का पद खाली पड़ा है. इस अस्पताल में अभी तक एनेस्थितिस्ट मौजूद नहीं है जिसके चलते छोटी सी चीरफाड़ भी अस्पताल में करवा पाना संभव नहीं है. अधिकतर एक्सीडेंटल केस में घायल लोगो को पांवटा अस्पताल से हायर सेंटर के लिए रेफर करना पड़ता है.



गर्भवती महिलाओं को सिजेरियन करवाने पडोसी राज्यों की तरफ रुख करना पड़ता है. स्थानीय लोगों ने वर्तमान सरकार से मांग की है कि सिविल अस्पताल पांवटा साहिब में विशेषज्ञ चिकित्सकों को नियुक्त किया जाए ताकि आम लोगों को बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधा मिल सकें और इलाज के लिए पड़ोसी राज्यों में न जाना पड़े.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज