• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल: कच्ची शराब की 9 भट्ठियां तोड़ी, 4000 लीटर लाहन नष्ट की

हिमाचल: कच्ची शराब की 9 भट्ठियां तोड़ी, 4000 लीटर लाहन नष्ट की

वन विभाग की टीम ने पांवटा साहिब के खारा वन क्षेत्र के तहत कच्ची शराब बनाने की 9 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया.

वन विभाग की टीम ने पांवटा साहिब के खारा वन क्षेत्र के तहत कच्ची शराब बनाने की 9 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया.

वन विभाग की टीम ने पांवटा साहिब के खारा वन क्षेत्र के तहत कच्ची शराब बनाने की 9 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के पांवटा साहिब में वन विभाग ने अवैध कच्ची शराब बनाने वालों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. वन विभाग की टीम ने खारा वन क्षेत्र के तहत कच्ची शराब बनाने की 9 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया. मौके पर बड़ी मात्रा में शराब बनाने की सामग्री लाहन भी बरामद हुई है. वन विभाग की टीम ने लगभग 36 ड्रमों में रखी 4000 लीटर लाहन को भी नष्ट कर दिया.

भट्ठियां तोड़ने के लिए दो टीमें बनाई

illigal liquor-अवैध शराब
वन विभाग की टीम ने खारा वन क्षेत्र के तहत कच्ची शराब बनाने की 9 भट्टियां को तहस-नहस कर दिया.


पांवटा साहिब में नशे के खिलाफ स्थानीय पुलिस की कार्रवाही के साथ साथ वन विभाग ने भी अवैध शराब माफिया के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. वन विभाग की टीम ने इन ड्रमों में रखी लगभग 4 हजार लीटर लाहन भी नष्ट कर दी. इस आॅपरेशन को पांवटा साहिब में तैनात आईएफएस प्रोवेशन संगीता महला लीड कर रही थी. अवैध शराब की भट्टियां तोड़ने के लिए विभाग के कर्मचारियों की दो अलग अलग टीमें गठित की गई थी.

इस इलाके में कच्ची शराब बनाने की है दर्जनों भट्ठियां

बताते चलें कि खारा वन क्षेत्र में कच्ची शराब बनाने की दर्जनों भट्टियां चलती हैं, जिनमें रोज हजारों लीटर कच्ची शराब बनाई जाती है. प्रदेश सरकार के नशा रोकने के आदेशों के चलते अब विभाग यहां शराब माफिया पर लगातार शिकंजा कस रही है. पांवटा वन मंडल अधिकारी ने स्पष्ट किया कि वन क्षेत्र में कच्ची शराब का निर्माण को रोकने के लिए हर जरूरी कदम उठाया जाएगा.

यह भी पढ़ें: झुका नगर निगम, पुरानी दरों पर ही वसूला जाएगा सीवरेज सेस

दसवीं कक्षा की छात्रा ने की खुदकुशी, जांच में लगी पुलिस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज