लाइव टीवी

हिमाचल चुनाव: 1993 के बाद यहां पहली बार बना सत्तासीन पार्टी का विधायक
Nahan News in Hindi

satish sharma | ETV Haryana/HP
Updated: December 24, 2017, 3:43 PM IST
हिमाचल चुनाव: 1993 के बाद यहां पहली बार बना सत्तासीन पार्टी का विधायक
प्रतीकात्मक तस्वीर: नाहन शहर

हिमाचल प्रदेश विधानभा चुनाव में नाहन सीट से लगातार दूसरी जीत दर्ज कर बीजेपी के दिग्गज नेता डॉ. राजीव बिंदल ने दशकों पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश विधानभा चुनाव में नाहन सीट से लगातार दूसरी जीत दर्ज कर बीजेपी के दिग्गज नेता डॉ. राजीव बिंदल ने दशकों पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है. दरअसल, नाहन में बीते करीब ढाई 24 सालों से सरकार की पार्टी का विधायक नही बना था. वर्ष 1993 के बाद यहां कभी भी सत्तासीन पार्टी का विधायक नहीं बना था.

गौरतलब है कि नाहन में हमेशा विपक्षी पार्टी का ही विधायक चुनकर आता था. लम्बे अरसे के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब यहां से सत्तासीन पार्टी के विधायक चुने गये हैं. यहां इस बार बीजेपी के विधायक राजीव बिंदल ने कांग्रेस के अजय सोलंकी को हराया है.

नाहन विधानसभा सीट की एक मान्यता यह भी थी कि नटनी श्राप के कारण यहां सत्तासीन पार्टी का विधायक जीत दर्ज नही कर पाता है, मगर बीजेपी के दिग्गज नेता ने नटनी श्राप को भी बेअसर कर दिया है. नाहन सीट से 1998 में प्रदेश में बीजेपी की सरकार सत्ता में आई मगर नाहन से कांग्रेस के कुश परमार चुनाव जीते थ.



वर्ष 2003 के चुनाव में कांग्रेस सत्ता पर काबिज हुई तो नाहन सीट से लोकजनशक्ति पार्टी के स्वर्गीय सदानंद चौहान विधायक बने. प्रदेश में 2007 में फिर बीजेपी सरकार सत्ता में आई मगर नाहन में फिर कांग्रेस के कुश परमार विपक्षी पार्टी से चुने गए. 2012 के चुनाव में सता परिवर्तन हुआ और सरकार कांग्रेस की बनी, मगर चुनाव बीजेपी नेता डॉ राजीव बिंदल ने जीता.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 23, 2017, 3:33 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading