लाइव टीवी

हिमाचल: NH-707 पर 200 मीटर सड़क टूटकर गिरी नदी में गिरी, बहाल होने में 20 दिन लगेगा

Rajesh Kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 6, 2019, 7:44 PM IST
हिमाचल: NH-707 पर 200 मीटर सड़क टूटकर गिरी नदी में गिरी, बहाल होने में 20 दिन लगेगा
पांवटा साहिब गुम्मा नेशनल हाईवे-707 पर भारी भूस्खलन होने से मार्ग अवरुद्ध हो गया है.

पांवटा साहिब गुम्मा नेशनल हाईवे-707 पर भारी भूस्खलन होने से मार्ग अवरुद्ध हो गया है. सतौन के समीप कच्ची ढांक पर लगभग 200 मीटर सडक धंस कर गिरी नदी में समा गई है.

  • Share this:
सिरमौर. पांवटा साहिब गुम्मा (Paonta Sahib Gumma) नेशनल हाईवे-707 (NH-707) पर भारी भूस्खलन (Landslide) होने से मार्ग अवरुद्ध हो गया है. सतौन के समीप कच्ची ढांक पर लगभग 200 मीटर सडक धंस कर गिरी नदी में समा गई है. लैंड स्लाइड लगातार जारी है और सडक लगातार लगातार टूट रही है. सड़क मार्ग बंद होने से दोनों ओर सैंकड़ों यात्री और व्यापारी फंस गए हैं. यह उम्मीद की जा रही है कि अगले 15 से 20 दिनों तक सड़क मार्ग बहाल होने के आसार नहीं हैं.

मलवा नदी की ओर बढ़ रहा है

राष्ट्रीय राजमार्ग 707 सतौन के समीप बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है. यहां कच्ची ढांक के समीप रविवार की सुबह से ही सड़क में दरारें पड़नी शुरू हो गई थी. कुछ ही घंटों में दरारें बढ़कर बड़ी ढांक में परिवर्तित हो गई. कई घंटों तक मलवा गिरने का सिलसिला जारी रहा. इसका नतीजा यह हुआ सड़क लगभग 20 मीटर नीचे धंस गई. सड़क का धंसना अभी भी जारी है. मलवा धीरे-धीरे गिरी नदी की तरफ बढ़ रहा है.

क्षतिग्रस्त हिस्सा धीरे धीरे धंस रहा है

लैंडस्लाइड से राष्ट्रीय राजमार्ग 707 का लगभग 200 मीटर हिस्सा पूरी तरह से टूट गया है. क्षतिग्रस्त हिस्से से लगतार बाकी हिस्सा भी धीरे धीरे धंसता जा रहा है. सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई हैं. हालांकि राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने सड़क मार्ग के विकल्पों पर कार्य शुरू कर दिया है.



एनएच 707 बहान होने में 20 दिन तक लग सकता है
Loading...

संजय अग्रवाल, एसडीओ एनएच के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग पर पहाड़ दरकने से नुकसान बहुत अधिक हुआ है और सड़क मार्ग जल्द बहाल होने के कोई आसार नहीं है. विभाग के इंजीनियरों का भी मानना है कि सड़क मार्ग बहाल होने में 15 से 20 दिन तक या इससे भी अधिक समय लग सकता है.

सतौन चूना मंडी को होगा व्यापक नुकसान

बस परिचालक ललित ने बताया ​कि राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित होने की वजह से यात्री वैकल्पिक मार्गों से पैदल गंतव्य तक पहुंच रहे हैं, लेकिन सड़क मार्ग बाधित होने से देश की सबसे बड़ी चूना पत्थर मंडियों में से एक सतौन चूना मंडी को बड़ा नुकसान होने का भय है. यहां व्यापार बिल्कुल ठप हो गया है.

Giri River
रास्ता बंद हो जाने के बाद लोग जान जोखिम में डाल कर गिरी नदी के रास्ते से होकर आना जाना कर रहे हैं.


यहां उद्योगों में बना तैयार माल की ढुलाई रुक गई है. लोग जान जोखिम में डाल कर नदी के रास्ते से आना जाना कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश: बाप-बेटे ने स्कूटर और बाइक के इंजन से बना डाला खेत जोतने के लिए ट्रैक्टर

 देखिए क्यों, ट्रैफिक रूल्स को लेकर हमीरपुर की SDM शिल्पी वेक्टा चर्चाओं में है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 6, 2019, 7:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...