जमीन विवाद: शिक्षिका को अगवा करने की कोशिश, विरोध पर लोहे की रॉड से पीटा

रेणु, पीड़िता
रेणु, पीड़िता

पांवटा साहिब में एक अध्यापिका के घर में करीब आधा दर्जन लोगों ने घुसकर उसे अगवा करने की कोशिश की. विरोध किए जाने पर अध्यापिका व उसके बच्चों पर लाठी-डंडों व लोहे की रॉडों से हमला किया गया.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश में सिरमौर जिला के पांवटा साहिब में महिलाओं के प्रति अपराध रूकने का नाम नहीं ले रहे है. यहां आये दिन अपराधी महिलाओं के साथ जघन्य अपराधों को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस व प्रशासन मूक दर्शक बना देख रहा है. ताजा मामला पांवटा साहिब के शमशेरपुर स्थित आईटीआई के पास पेश आया है. यहां करीब आधा दर्जन लोगों ने एक अध्यापिका के घर में घुसकर उसे अगवा करने की सरेआम कोशिश की और उसका विरोध किए जाने पर अध्यापिका व उसके बच्चों पर लाठी-डंडों व लोहे की रॉडों से जानलेवा हमला किया गया.

बीते रविवार की सुबह करीब 11 बजे करीब आधा दर्जन लोग आईटीआई के समीप 50 वर्षीय अध्यापिका रेणु के घर में घुस आये और उसे जबरन अगवा करने की कोशिश की गई. अध्यापिका के बचाव में उनके दोनों बच्चे सिद्धार्थ व केशव शर्मा बाहर आये तो अपराधियों ने उनपर डंडों व लोहे की रॉडों से हमला बोल दिया. अध्यापिका को काफी अंदरूनी चोटें आई हैं.

इस हमले में अध्यापिका के बड़े बेटे सिद्धार्थ के बाजू, गर्दन, टांगों व मुंह पर गंभीर चोटें आईं हैं. उनके छोटे बेटे केशव की बाजुओं व टांगों में गम्भीर चोटें आई है.



इस बावत अध्यापिका रेणु शर्मा ने पुलिस थाना में करीब आधा दर्जन लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. शिकायत में बताया गया है कि पुराने जमीनी विवाद के चलते आरोपियों द्वारा पहले भी कई बार उन्हें धमकाया जाता रहा है.
इस मामले की पुष्टि करते हुए पांवटा के डीएसपी (प्रोबेशन) डॉ. प्रतिभा चौहान ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है. फिलहाल घायलों का मेडीकल कराया जा रहा है. इस मामले में क्रॉस एफआईआर दर्ज की गई है और छानबीन के बाद पूरे मामले में निष्पक्ष कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज