चमत्कार या कुछ और...! 19 साल मौन रहे सिरमौर के शिक्षक की लौटी आवाज

नाहन के पावंटा के शिक्षक गोपाल.
नाहन के पावंटा के शिक्षक गोपाल.

शिक्षक गोपाल के मुताबिक, आवाज जाने के बाद उन्होंने पीजीआई चंडीगढ़ में इलाज करवाया. इस दौरान डॉक्टर ने बताया कि उनके वोकल कॉर्ड में दिक्कत है.

  • Share this:
पांवटा साहिब (सिरमौर). 19 साल तक एक शिक्षक (Teacher) बच्चों को मौन होकर स्कूल में पढ़ाता रहा. फिर एकाएक उसकी आवाज लौट आई. मामला हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के सिरमौर जिले का है. 19 साल पहले पांवटा साहिब क्षेत्र के गांव कोटडी व्यास के गोपाल चंद की आवाज चली गई थी. पीजीआई चंडीगढ़ (PGI Chandigarh) तक इलाज करवाया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ, लेकिन अब गोपाल चंद की आवाज लौट आई है.

चमत्कार या कुछ और…
शिक्षक की आवाज लौटने पर हर कोई हैरान है. क्योंकि इलाज के बावजूद कोई सुधार नहीं हुआ था. ऐसे में आवाज का लौटना किसी चमत्कार से कम नहीं माना जा रहा है. शिक्षक गोपाल के मुताबिक, एक चमत्कार ही है कि ईश्वरीय कृपा से अपने आप ही इतने वर्षो बाद कुछ माह पूर्व उनकी आवाज लौट आई.

हिंदी पढ़ाते हैं गोपाल
जानकारी के अनुसार गोपाल चंद पांवटा साहिब के राजकीय उच्च विद्यालय टोकियो में हिंदी पढ़ाते हैं. मौन रहकर शिक्षक ने बच्चों को पढाने का कार्य बखूबी किया. शिक्षक गोपाल के मुताबिक, अब वह अच्छी तरह से बोल सकते हैं और बच्चों को पहले से अधिक अच्छी तरह समझा सकते हैं. उन्होंने बताया कि पहले वह ब्लेकबोर्ड और कागज पर लिखकर बच्चों को पढाते थे. अब बच्चों को समझाने के लिए पहले से कम मेहनत करनी पड़ती है. हालांकि, बोल न पाने की वजह से बच्चों की शिक्षा मे कोई कमी नहीं रही और उनका परीक्षा परिणाम 80 प्रतिशत से ऊपर ही रहा, लेकिन अब उनकी आवाज आने पर बच्चों में भी खुशी है.



पीजीआई में करवाया इलाज
शिक्षक गोपाल के मुताबिक, आवाज जाने के बाद उन्होंने पीजीआई चंडीगढ़ में इलाज करवाया. इस दौरान डॉक्टर ने बताया कि उनके वोकल कॉर्ड में दिक्कत है. हालांकि, इलाज से उन्हें कोई फायदा नहीं हुआ. लेकिन डॉक्टर ने कहा था कि भविष्य में उनकी आवाज भी लौट सकती है. गोपाल कहते हैं कि यह एक चमत्कार ही है. ईश्वरीय कृपा से अपने आप ही इतने वर्षों बाद उनकी आवाज लौट आई.

ये भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस परेड में कुल्लू दशहरा की झांकी,फिर राजपथ पर उतरेंगे भगवान रघुनाथ

हिमाचल प्रदेश में 31 मार्च तक अधिकारियों और कर्मचारियों के तबादलों पर रोक

हिमाचल पुलिस की महिला हेड कांस्टेबल 30 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज