मुमताज को इंसाफ दिलाने के लिए फिर सड़कों पर उतरे लोग, निकाला कैंडल मार्च

चिल्लौन के जंगल में दो सप्ताह से लापता मुमताज की लाश शनिवार को मिली थी.
चिल्लौन के जंगल में दो सप्ताह से लापता मुमताज की लाश शनिवार को मिली थी.

हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब के पुरूवाला की 20 वर्षीय युवती मुमताज की मौत के बाद बवाल मचा हुआ है. मुमताज के परिजनों सहित सैंकड़ों ग्रामीण मुमताज को इंसाफ दिलाने के लिए सोमवार रात सड़क पर उतरे और कैंडल मार्च निकाला.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब के पुरूवाला की 20 वर्षीय युवती मुमताज की मौत के बाद बवाल मचा हुआ है. मुमताज के परिजनों सहित सैंकड़ों ग्रामीण मुमताज को इंसाफ दिलाने के लिए सोमवार रात सड़क पर उतरे और कैंडल मार्च निकाला.

न्याय की गुहार लगा रहे ग्रामीणों ने पुलिस और प्रशासन की बेरुखी को देखते हुए आक्रोशित ग्रामीणों ने दिन में नेशनल हाइवे पर जाम लगा कर आगजनी और पथराव करते हुए पुलिस के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया.

दिन में विरोध प्रदर्शन करने के बाद सोमवार शाम को सैकड़ों ग्रामीणों ने बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए कैंडल मार्च निकाला. इस कैंडल मार्च में भारी संख्या में युवाओं ने हिस्सा लिया. ग्रामीणों ने कैंडल मार्च निकालते हुए मांग की कि जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़कर फांसी की सजा दी जाए.



इसके साथ ही ग्रामीण मामले की जांच सीबीआई से करवाने की गुहार लगा रहे हैं. बता दें कि परिजनों ने इस मामले में लड़की की हत्या का आरोप लगाया है. इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी सारिक के चाचा डॉ. रहमान को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मुख्य आरोपी का अस्पताल में उपचार चल रहा है. जिस पर पुलिस का कड़ा पहरा है।
गौरतलब है कि शनिवार को पुलिस ने पांवटा साहिब के चिल्लौन के जंगल से दो सप्ताह से लापत युवती मुमताज का शव बरामद किया था. सोमवार के दिन परिजनों ने उसी स्थल से बॉडी के कुछ और हिस्से बरामद किए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज