लाइव टीवी

VIDEO: डंडों पर हिमाचल का हेल्थ सिस्टम, लाठी पर सड़क तक पहुंचाई महिला मरीज

News18 Himachal Pradesh
Updated: October 30, 2019, 4:03 PM IST
VIDEO: डंडों पर हिमाचल का हेल्थ सिस्टम, लाठी पर सड़क तक पहुंचाई महिला मरीज
बांस के डंडों पर महिल मरीज को ले जाते हुए लोग.

रेणुकाजी से कांग्रेस विधायक विनय कुमार ने न्यूज18 से बातचीत में कहा कि फॉरेस्ट क्लीयरेंस के चलते गांव में सड़क नहीं बन पाई है. विधायक प्राथमिकता में भी इस मुद्दे को डाला गया था.

  • Share this:
नाहन. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कई जिलों में आज भी सड़क सुविधा (Road Facility) नहीं पहुंच पाई है और इसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रह है. खासकर आपात स्थिति में जान पर बन जाती है. ऐसा ही एक मामला सिरमौर (Sirmour) जिले से सामने आया है. यहां सड़क सुविधा नहीं होने के कारण महिला मरीज को डंडों के सहारे मुख्य मार्ग तक पहुंचाना पड़ा. इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.



जानकारी के अनुसार, सिरमौर जिले के रेणुका विधानसभा क्षेत्र (Renuka Ji Assembly) के चुनौटी का यह मामला है. वीडियो बनाने वाला शख्स बताया है कि वह चुनौटी गांव, तहसील संगड़ाह के रहने वाले हैं और अचानक गांव की महिला के पेट दर्द हुआ. क्योंकि गांव में सड़क सुविधा नहीं है, इसलिए महिला मरीज को बांस के डंडों पर बांधकर मुख्य सड़क तक पहुंचाया. वीडियो बनाने वाला शख्स बताता है कि सड़क तो दूर की बात, पगडंडी की हालत भी काफी खराब है.

महिला मरीज के पेट दर्द की शिकायत थी.
महिला मरीज के पेट दर्द की शिकायत थी.


ये बोले विधायक
रेणुकाजी से कांग्रेस विधायक विनय कुमार ने न्यूज-18 से बातचीत में कहा कि फॉरेस्ट क्लीयरेंस के चलते गांव में सड़क नहीं बन पाई है. विधायक प्राथमिकता में भी इस मुद्दे को डाला गया था.

गांव की पगड़ंडी की हालत भी काफी खराब है.
गांव की पगड़ंडी की हालत भी काफी खराब है.

Loading...

खबर पर सरकार ने लिया संज्ञान
न्यूज-18 ने इस विषय को प्राथमिकता से उठाया, जिस पर सरकार ने संज्ञान लिया है. ग्रामीण विकास मंत्री वीरेंद्र कंवर ने मामले पर संज्ञान लेते हुए विभाग के माध्यम से स्थानीय खंड विकास अधिकारी से पूरी जानकारी जुटाने को कहा है. कैबिनेट मंत्री वीरेंद्र कंवर (Cabinet Minister Virender Kanwar) ने न्यूज-18 से कहा कि इसको लेकर शैल्फ बनाया जाएगा और विभाग के करने में जो भी होगा, उसे किया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि पंचायतों को सरकार ने लिखित निर्देश भी दिए हैं कि गांव की प्राथमिकता क्या है, उसी के हिसाब से काम करें. चाहे, उसमें सड़क बनानी हो या फिर एंबुलेंस रोड की जरूरत. पीने के पानी से लेकर हर प्राथमिकता को तय करके उसके शेल्फ तैयार करें. सरकार इसमें मनरेगा या 14 वे वित्तायोग से धन की व्यवस्था करेगी. सरकार के पास धन की कमी नहीं है.

(इनपुट्स-प्रदीप ठाकुर और सतीश शर्मा)

ये भी पढ़ें: हिमाचल: पुल से टकराई कार, दो युवकों की मौत, 1 गंभीर

VIDEO: हिमाचल में द बर्निंग कार! चलती स्कॉर्पियो में आग, बाल-बाल बचे सवार

हिमाचल में तैयार होगा कैंसर रोधी गुण वाला जापान का शिटाके मशरूम!

कुल्लू में घर में छापेमारी, 986 ग्राम चरस के साथ महिला गिरफ्तार

CM ने भरमौर-पांगी क्षेत्र में 209 करोड़ की परियोजनाओं का उद्घाटन-आधारशिला रखीं

HRTC बस कंडक्टर ने दिव्यांग के मुंह पर मारा बस पास, '50 रु. दे तो ले जाऊंगा'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 1:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...