लाइव टीवी

VIDEO: हिमाचल में स्वास्थ्य और सड़कों का हाल: मरीजों को डंडे और कंधों का सहारा
Nahan News in Hindi

News18 Himachal Pradesh
Updated: February 14, 2020, 6:04 PM IST
VIDEO: हिमाचल में स्वास्थ्य और सड़कों का हाल: मरीजों को डंडे और कंधों का सहारा
सिरमौर जिले में कंधों पर मरीज को ले जाते हुए.

इस सड़क के निर्माण कार्य में जुटा ठेकेदार काम छोड़कर फरार हो गया है. इस पर विभाग और सरकार ने गौर नहीं फर्माया है.

  • Share this:
नाहन. हिमाचल सरकार (Himachal Government) भले ही सभी गांव को सड़क सुविधा से जोड़ने के दावे करती हो, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और है. प्रदेश के कई गांव सड़क सुविधा (Road facility) से अछूते हैं और इन गांवों में आपात हालात में मरीजों (Patient) और अन्य लोगों को डंडे और कंधों का सहारा है.

जानकारी के अनुसार, सिरमौर के रेणुका जी (Renuka Ji) विधानसभा विधानसभा क्षेत्र की बढ़ोल पंचायत के कुणा गांव में सड़क सुविधा न होने पर मरीज को डंडे के सहारे अस्पताल की तरफ ले जाया गया. दरअसल, गांव को आज तक सड़क सुविधा नहीं मिल पाई है. सड़क सुविधा न मिलने से ही यह लोगों में सरकार के प्रति खासी नाराजगी है. लोगों का आरोप है कि समस्या को लेकर सरकार बिल्कुल भी गंभीर नहीं है.

खतरनाक है पगडंडी
इस बाबत एक वीडियो भी जारी किया गया. तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि कैसे खतरनाक पहाड़ी के बीच जान जोखिम में डालकर लोग मरीज को ले जा रहे हैं. जरा सी गलती हुई तो मरीज को ले जा रहे लोग भी खुद हादसे का शिकार हो सकते हैं. लोगों का कहना है कि 2015 में सड़क का निर्माण कार्य शुरू हुआ था, जो अभी भी पूरा नहीं हो पाया है. बार-बार इस बारे में प्रशासन व सरकार को अवगत करवाया जाता है. मगर कोई भी समस्या को सुनने के लिए तैयार नहीं है.

मरीजों को डंडे पर उठाकर ले जाते हुए लोग.
मरीजों को डंडे पर उठाकर ले जाते हुए लोग.


ठेकेदार निर्माण छोड़कर भागा
इस सड़क के निर्माण कार्य में जुटा ठेकेदार काम छोड़कर फरार हो गया है. इस पर विभाग और सरकार ने गौर नहीं फर्माया है. रेणुका विधानसभा क्षेत्र के मौजूदा कांग्रेस विधायक और पूर्व सरकार में लोक निर्माण विभाग के सीपीएस रहे विनय कुमार ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने यहां सड़क निर्माण के लिए करोड़ों की राशि स्वीकृत कर सड़क का निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया था, मगर मौजूदा सरकार की लापरवाही के चलते यह कार्य रुका पड़ा है.
विनय कुमार ने कहा कि मौजूदा सरकार और विभाग का ठेकेदारों पर कोई कंट्रोल नहीं है. उन्होंने कहा कि इस मामले को उन्होंने विधानसभा सत्र में भी उठाया था. कुल मिलाकर तस्वीरें सच में हैरान करने वाली है.

ये भी पढ़ें-नाले में संदिग्ध अवस्था में मिला युवक का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आंशका

सात जन्मों की कसम खाने के 7 दिन बाद पति को कमरे में बंदकर भागी नवेली दुल्हन

‘गोली मारो से सियासी नुकसान’: अमित शाह के बयान पर बोले अनुराग- ‘नो कमेंट्स’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 6:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर