• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • VIDEO: पांवटा में सिंचाई के लिए बनी योजना 25 वर्षों से बंद, खेत बंजर होने के कगार पर

VIDEO: पांवटा में सिंचाई के लिए बनी योजना 25 वर्षों से बंद, खेत बंजर होने के कगार पर

पांवटा साहिब के किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है. यहां के खेत बंजर होने के कगार पर पहुंच गए हैं.

  • Share this:
हिमाचल के सिरमौर जिले के पांवटा साहिब के किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है. इस क्षेत्र की सिंचाई की सबसे बड़ी योजना कई दशकों से बंद पड़ी है और अलग-अलग पार्टी के नेताओं के आश्वासन के बाद भी स्कीम शुरू नहीं हो पाई है. इस साल गर्मी के मौसम में भी किसानों को सिंचाई के लिए पानी नहीं मिल पाया है. पांवटा साहिब के एक दर्जन पंचायतों के किसानों की हज़ारों बीघा भूमि सिंचाई के लिए पानी को तरस रही है. पानी को तरस रहे खेत बंजर होने के कगार पर पहुंच गए हैं. गिरी पावर हाउस के निर्माण के दौरान बनी इस (एलबीसी) योजना से किसी समय हज़ारों बीघा भूमि को सिंचाई का पानी मिलता था, लेकिन करीब 25 वर्षों से इस नहर को ठीक नहीं किया गया.

यहां के किसानों ने बताया कि इस नहर में पहले कई जगह लीकेज थी और बाद में बरसात के दौरान इस योजना का काफी हिस्सा खराब हो गया था, जिसे दुरुस्त करने के लिए आईपीएच विभाग ने कभी कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई. बीते 25 वर्षों से आज तक इस नहर में सिंचाई का पानी नहीं पहुंच पाया और किसानों की उपजाऊ भूमि बंजर बनती जा रही है, इतना ही नहीं गन्ने की फसल का भी भारी नुकसान किसानों को झेलना पड़ रहा है.

आलम यह है कि सत्ता में आते ही नेताओं को किसानों की यह समस्या याद जरुर आती है, लेकिन उसके बाद इस तरफ कोई ध्यान ही नहीं दिया जाता है. इस बार विधानसभा चुनाव में जीत के तुरंत बाद बीजेपी विधायक सुखराम चौधरी ने इस मामले को गंभीरता के साथ उठाने का वायदा किया था. उन्होंने आश्वासन दिया था कि सत्ता में आते ही सबसे पहले पांवटा के किसानों के लिए सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी, लेकिन अभी तक विधायक ने भी इस समस्या का समाधान करवाने के लिए ठोस कदम नहीं उठाए हैं.

बताते चलें कि दून क्षेत्र चारों तरफ से नदियों से घिरा होने के बावजूद भी कोई भी नेता किसानों के लिए सिंचाई की बड़ी योजना नहीं बना सका और न ही इस पुरानी योजना को दुरुस्त करवा पाए.

यह भी पढ़ें: भूतनाथ पुल की मजिस्ट्रेट जांच अधूरी, कुल्लू के डीसी ने दिए दोबारा जांच के आदेश

लहसुन की बंपर फसल से खिले किसानों के चेहरे, आमदनी बना जरिया

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज