लाइव टीवी

सिरमौर : गो सदन में लगी प्रदेश की पहली Cow dung logs बनाने की मशीन
Nahan News in Hindi

satish sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 18, 2020, 3:31 PM IST
सिरमौर : गो सदन में लगी प्रदेश की पहली Cow dung logs बनाने की मशीन
गो काष्ठ का मोक्षधाम में शव को जलाने में इस्तेमाल किया जाएगा.

इस मशीन से बनाए जाने वाले काऊ डंग लॉग्स (Cow dung logs) का इस्तेमाल ईंधन के रूप में किया जाएगा जो ऊर्जा (Energy) का सस्ता साधन होगा. इसके प्रयोग से कार्बन डाइऑक्साइड की जगह ऑक्सीजन (Oxygen) पैदा होगी और पर्यावरण (Environment) शुद्ध होगा.

  • Share this:
नाहन. जिला सिरमौर (Sirmaur) में गाय के गोबर से काष्ठ यानी काऊ डंग लॉग्स d बनाने वाली मशीन का शुभारंभ किया गया. इस मशीन से बनाए जाने वाले काऊ डंग लॉग्स का इस्तेमाल ईंधन के रूप में किया जाएगा जो ऊर्जा (Energy) का सस्ता साधन होगा. इसके प्रयोग से कार्बन डाइऑक्साइड की जगह ऑक्सीजन (Oxygen) पैदा होगी और पर्यावरण (Environment) शुद्ध होगा. शुरुआती दौर में इसका इस्तेमाल मोक्षधाम में शव को जलाने (Crmation) के लिए उपयोग में लाई जाने वाली कुल लकड़ी का 10 प्रतिशत भाग के तौर पर किया जाएगा ताकि वनों का संरक्षण किया जा सके.

हिमाचल प्रदेश में यह अपनी तरह का पहला प्रयोग है, जिसका उद्देश्य जिला सिरमौर में निराश्रित पशुओं की संख्या को कम करना है और जिला में बने गोशालाओं को आत्मनिर्भर बनाना है. काऊ डंग लॉग्स बनाने के लिए चार दिन पुराने दस किलो गोबर के इस्तेमाल से चार काष्ठ बन सकती है जिसमें एक काष्ठ का आकार लगभग 2.5 फुट लम्बा व 2.5 इंच चौडा व मोटा होगा.

उपायुक्त सिरमौर ने किया काऊ डंग लॉग्स बनाने की मशीन का शुभारंभ


गोबर से दिए भी बनाए जाएंगे

इस मशीन का शुभारंभ करने के बाद मीडिया से बात करते हुए डीसी सिरमौर डॉ. आरके परुथी ने बताया कि आने वाले समय में गाय के गोबर से गमले बनाए जाएंगे. इन गमलों की ड्युरेबिलिटी बढ़ाने के लिए सीएसआईआर पालमपुर की मदद ली जाएगी. उन्होंने बताया कि इस बार दिवाली के मौके पर प्रशासन गोबर से बने दीए भी मार्केट में लांच करेगा.

ये भी पढ़ें - किन्नौर : बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त, किसानों के चेहरे खिले

ये भी पढ़ें - प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राठौर के 1 साल का कार्यकाल पूरा, गिनाई उपलब्धियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 3:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर