बीजेपी के नेता की फैक्ट्री से नदी में छोड़ा जा रहा मलबा, IPH ने बंद की पेयजल योजना
Nahan News in Hindi

बीजेपी के नेता की फैक्ट्री से नदी में छोड़ा जा रहा मलबा, IPH ने बंद की पेयजल योजना
सिरमौर जिले के पछाद विधानसभा क्षेत्र के गिन्निघाड़ में एक फेक्ट्री द्वारा केमिकल युक्त मलबा नदी में फेंका जा रहा है.

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के पछाद विधानसभा क्षेत्र के गिन्निघाड़ में एक फेक्ट्री द्वारा केमिकल युक्त मलबा नदी में फेंका जा रहा है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के पछाद विधानसभा क्षेत्र के गिन्निघाड़ में एक फेक्ट्री द्वारा केमिकल युक्त मलबा नदी में फेंका जा रहा है. हैरानी की बता यह है कि इसी नदी से हजारों लोगों को पीने का पानी भी सप्लाई होता है. यह फैक्ट्री प्रदेश के एक बीजेपी नेता की है. नदी का पूरा पानी काला हो गया है. इसी नदी से दो पेयजल योजनाओं का पानी सप्लाई होता है. इससे सप्लाई होने वाला पानी हजारों लोगों की आबादी इस्तेमाल करती है. लोगों का कहना है कि इस पानी से बीमारियों का खतरा बढ़ गया है. इस नदी का पानी आदमी तो छोड़िए मवेशियों के लिए भी जहर बन चुकी है. पछाद विधानसभा के लोगों का कहना है कि एक बीजेपी नेता की मशरूम व कत्था फैक्ट्री से केमिकल युक्त मलबा नदी में डाला जाता है जिससे पूरी नदी दूषित हो रही है.

नदी में हर साल बरसात में छोड़ा जाता है मलबा

Water pollution-जल प्रदूषण
लोगों का कहना है कि हर बार बरसात के दौरान केमिकल युक्त मलबा इस नदी में छोड़ा जाता है




लोगों का कहना है कि हर बार बरसात के दौरान केमिकल युक्त मलबा इस नदी में छोड़ा जाता है और इसी तरह का मंजर हर बरसात में देखने को मिलता है. लोगो द्वारा कई बार इसकी शिकायतें भी की गई, मगर शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं होती है. यह मामला प्रभावशाली व्यक्ति से जुड़ा है. लिहाजा अधिकारी भी कोई कार्रवाई करते नजर नही आते हैं. लोगों ने मांग की है कि यदि प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर सकता तो दोनों पेयजल लाइनों को ही हमेशा के लिए बंद कर दिया जाए.
आनन-फानन में पेयजल स्कीम बंद

अब मामला बढ़ता देख विभाग ने कर्मचारी को मौके पर भेज आनन-फानन में पेयजल स्कीम को बंद कर दिया. कर्मचारी ने नदी से पानी के सैंपल लिए. इस मौके पर पहुंचे कर्मचारी ने माना कि नदी में दूषित पानी की सप्लाई हो रही है. कर्मचारी की रिपोर्ट के बाद ही पेयजल स्कीम से पानी की सप्लाई उच्च अधिकारी के आदेश पर बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: धोखाधड़ी: हेल्थ कार्ड बनाने के नाम पर 400 से ज्यादा लोगों से वसूले पैसे, सालभर बाद भी नहीं मिले कार्ड

कुल्लू अस्पताल को मिलेगा नेशनल क्वालिटी सर्टिफिकेट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading