पिस्तौल की नोंक पर 20 तोला सोना लूट ले गए थे बदमाश, पुलिस को ​नहीं मिली सुराग

पीड़ित मंजूर हसन
पीड़ित मंजूर हसन

पांवटा साहिब में अज्ञात बदमाशों द्वारा पिस्तौल की नोंक पर लूटपाट की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों का पता तीन महीने बीत जाने के बाद भी पुलिस नहीं निकाल पाई है.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश में सिरमौर जिले के पांवटा साहिब में अज्ञात बदमाशों द्वारा पिस्तौल की नोंक पर लूटपाट की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों का पता तीन महीने बीत जाने के बाद भी पुलिस नहीं निकाल पाई है.

पांवटा साहिब के भुंगरनी में बीते वर्ष 15 दिसंबर 2017 को एक परिवार को देर रात बंधक बनाकर पिस्तौल की नोक पर लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया गया था. वारदात को देर रात 2-3 बजे के बीच भुंगरनी क्षेत्र में अंजाम दिया गया था. बदमाश न केवल लाखों के गहने व हजारों की नकदी ले उड़े बल्कि 4 बदमाशों ने परिवार की महिला के साथ मारपीट की भी की थी.

एक बदमाश ने घर के मालिक की कनपटी पर पिस्तौल लगाकर सारी चाबियां अपने कब्जे में ले ली और घर से करीब 15 तोला सोना व 25 से 30 हजार रूपए की नकदी की लूट को अंजाम दिया था. लेकिन तीन महीने बीत जाने के बाद भी पुलिस अज्ञात बदमाशों का पता नहीं लगा पाई है. हालंकि अभी पुलिस की छानबीन जारी है.



पीड़ित मंजूर हसन ने बताया कि पुलिस की छानबीन शुरूआत के सिर्फ 15 दिनों तक सही तरीके से चली लेकिन उसके बाद पुलिस सुस्त हो गई और अभी तक किसी को भी नहीं पकड़ा जा सका है .उन्होंने बताया की जिसने भी इस वारदात को अंजाम दिया है वे फिर से उनके परिवार को निशाना बना सकते हैं.
पांवटा साहिब के डीएसपी प्रमोद चौहान ने कहा कि इस मामले की गंभीरता से छानबीन की जा रही है. शीघ्र ही पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगने की उम्मीद है. इस वारदात को अंजाम दिए जाने में अन्तर्राज्यीय गिरोह के संलिप्त होने के भी संकेत मिल रहे है. उन्होंने कहा कि शीघ्र ही आरोपी सलाखों के पीछे होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज