Home /News /himachal-pradesh /

आसन वेटलैंड में हजारों विदेशी पक्षियों ने जमाया डेरा, मार्च माह तक बने रहेंगे ये मेहमान

आसन वेटलैंड में हजारों विदेशी पक्षियों ने जमाया डेरा, मार्च माह तक बने रहेंगे ये मेहमान

विदेशी परिंदों के यहां पहुंचने की संख्या में लगातार इजाफ़ा होता जा रहा है.

विदेशी परिंदों के यहां पहुंचने की संख्या में लगातार इजाफ़ा होता जा रहा है.

उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश की सीमा (Uttrakhand And Himachal Border) के साथ लगता हुआ आसन वेटलैंड (Aasan Wetland) विदेशी परिंदों (Migrant Bird) से गुलज़ार होना शुरू हो गया है. विभिन्न प्रजातियों के हज़ारों विदेशी परिंदे यहां अपना डेरा डाल चुके हैं.

अधिक पढ़ें ...
सिरमौर. उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश की सीमा (Uttrakhand And Himachal Border) के साथ लगता हुआ आसन वेटलैंड (Aasan Wetland) विदेशी परिंदों (Migrant Bird)  से गुलज़ार होना शुरू हो गया है. यहां अब तक विभिन्न प्रजातियों के हज़ारों विदेशी परिंदे अपना डेरा डाल चुके हैं. इन विदेशी मेहमानो को निहारने पर्यटकों व पक्षी प्रेमियों का जमावड़ा लगना भी शुरू हो गया है. मीलों का सफ़र तय करके विदेशी परिंदे हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब से सटे उत्तराखंड के आसन वेटलैंड की कृत्रिम झील सहित आसपास यमुना नदी में अपना डेरा डालना शुरू कर चुके हैं. हिमाच्छादित पोलीआर्टिक, यूरोप, मध्य एशिया व साइबेरिया आदि क्षेत्रों से आकर विदेशी परिंदों ने यहां अपना डेरा जमाना शुरू कर दिया है. मार्च महीने तक हिमाचल व उत्तराखंड की इन सुनहरी वादियों में आराम करने के बाद ये विदेशी मेहमान वापिस लौटेंगे.

नवंबर माह में इन ​पक्षियों की गणना

इन दिनों विदेशी परिंदों के यहां पहुंचने की संख्या में लगातार इजाफ़ा होता जा रहा है. अभी तक विभिन्न प्रजातियों के हज़ारों पक्षी झील व आसपास के इलाके में डेरा डाल चुके हैं. इन पक्षियों की गणना नवंबर महीने में की जाएगी. ये विदेशी मेहमान पांवटा साहिब से देहरादून के लिए सफ़र करने वाले सैलानियों के लिए हर वर्ष आकर्षण का केंद्र बनते हैं.



यहां हर साल 50-60 प्रजातियों के आते हैं हजारों पक्षी

बताते चलें की ज्यादा ऊंचाई वाले स्थानों की झीलें अक्तूबर माह में बर्फ में तब्दील होना शुरू हो जाती है. इसके चलते ये विदेशी परिंदे आसन वेटलैंड और यमुना नदी को अपना अस्थायी आशियाना बना लेते हैं. आने वाले दिनो मे यहां लगभग 50 से 60 प्रजातियों के हजारों पक्षी जलक्रीड़ा करते देखे जाएंगे. जनवरी माह तक इन पक्षियों का आगमन चलता रहेगा.

यह भी पढ़ें: पूर्व CM वीरभद्र के भतीजे के मर्डर केस में हरमेहताब दोषी करार, सजा का ऐलान कल

प्लास्टिक कचरे से बन रही है हिमाचल प्रदेश में पहली सड़क

Tags: Bird Watching Festival, Dehradun news, Himachal pradesh, Paonta Sahib

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर