लाइव टीवी

शराब सस्ती करने के विरोध में सड़कों पर युवा कांग्रेस, विधायक के माध्यम सरकार को भेजा ज्ञापन
Nahan News in Hindi

satish sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 23, 2020, 4:47 PM IST
शराब सस्ती करने के विरोध में सड़कों पर युवा कांग्रेस, विधायक के माध्यम सरकार को भेजा ज्ञापन
युवा कांग्रेस ने जयराम सरकार पर नशे को बढ़ावा दिए जाने का आरोप लगाया.

प्रदेश की जयराम सरकार (Jairam Thakur) द्वारा शराब के दाम घटाए (Liquor price reduced) जाने के विरोध में युवा कांग्रेस (Youth Congress) सड़कों पर है. रेणुका विधानसभा (Renuka Assembly) क्षेत्र के खेगवा में रविवार को युवा कांग्रेस के दर्जनों कार्यकर्ता जयराम सरकार के खिलाफ बैनर और शराब की खाली बोतलें लेकर प्रदर्शन करते हुए नजर आए.

  • Share this:
नाहन. प्रदेश की जयराम सरकार (Jairam Thakur) द्वारा शराब के दाम घटाए जाने के विरोध में युवा कांग्रेस (Youth Congress) सड़कों पर है. रेणुका विधानसभा (Renuka Assembly) क्षेत्र के खेगवा में रविवार को युवा कांग्रेस के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने जयराम सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता बैनर और शराब की खाली बोतलें लेकर प्रदर्शन करते हुए नजर आए. युवा कांग्रेस ने शराब के दाम को घटाने व शराब के ठेकों व रेस्टोरेंट समय को रात 2 बजे तक खुला रखने के निर्णय को बेहद दुर्भाग्य पूर्ण बताया. युवा कांग्रेस का कहना है कि एक तरफ तो सरकार नशा मुक्ति की बात करती है, वहीं दूसरी तरफ सरकार खुद नशे को बढ़ावा दे रही है. युवा कांग्रेस के नेताओं का कहना है कि अच्छा होता कि जयराम सरकार शिक्षा, बिजली और बढ़ते गैस सिलेंडर के दामों में कटौती करती.

विधायक ने सरकार के फैसले की निंदा की

युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय विधायक विनय कुमार के जरिए सरकार को ज्ञापन भेजा, जिसमें शराब के दामों को लेकर लिए गए निर्णय को तुरंत वापस लेने की मांग की गई. कांग्रेस विधायक विनय कुमार ने कहा कि निश्चित तौर पर सरकार द्वारा लिया गया फैसला बेहद निंदनीय है. सरकार को लिए गए
फैसले पर गौर करना चाहिए.



कांग्रेस विधायक विनय कुमार ने कहा कि सरकार को शराब की कीमत घटाए जाने के फैसले पर गौर करना चाहिए.


सोशल मीडिया पर भी सरकार की हो रही किरकिरी

बता दें कि जयराम सरकार ने मंत्रिमंडल की बैठक में शराब के दाम घटाने व रेस्टोरेंट को रात 2 बजे तक खोले रहने का निर्णय लिया था. मंत्रिमंडल के इस फैसले के बाद से ही सरकार को खूब आलचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. सोशल मीडिया पर भी सरकार की खूब किरकिरी हो रही है.

ये भी पढ़ें - हिमाचल विधासभा का बजट सत्र : स्पीकर के नाम पर कल विचार करेगी भाजपा

ये भी पढ़ें - हमीरपुर : दसवीं की तीन छात्राओं पर एसिड फेंक कर फरार हुआ छात्र

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नाहन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 23, 2020, 4:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर