हिमाचल: 28 वर्ष पहले बनी नेऊली-थरमाण-ग्राहण रोड पर आज तक नहीं चली बस, ग्रामीणों को होना पड़ता है परेशान

कुल्लू के दर्जनों ग्रामीणों का आरोप है कि उनको सार्वजनिक परिवहन का लाभ नहीं मिल रहा है.
कुल्लू के दर्जनों ग्रामीणों का आरोप है कि उनको सार्वजनिक परिवहन का लाभ नहीं मिल रहा है.

कुल्लू (Kullu) जिले के लोगों का आरोप है कि आज से 28 साल पहले नेऊली-थरमाण-बराधा-ग्राहण सड़क (Road) बन गई थी, लेकिन राजनेताओं की उदासीनता के कारण इस रूट पर आज तक बस (Bus) नहीं चल सकी है. इससे लोगों को परिवहन में समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2020, 8:26 PM IST
  • Share this:
कुल्लू. कुल्लू (Kullu) जिला मुख्यालय के साथ लगती खराहल घाटी के नेऊली पंचायत में दर्जनों गांव के ग्रामीणों को परिवहन (Transportation) निगम की यातायात की सुविधा नहीं मिल रही है, जिसके चलते दर्जनों गांव के ग्रामीणों को ऑटो (Auto) में अधिक किराया देना पड़ता है. इन गांव के ग्रामीणों ने जिला प्रशासन और नेताओं पर अनदेखी का आरोप लग रहे हैं.

ग्रामीणों की मानें तो वर्ष 1992 में नेऊली-थरमाण-ग्राहण सड़क का निर्माण हुआ था, लेकिन 28 साल बाद भी ग्रामीणों को यहां पर यातायात की सुविधा नहीं मिल पाई है. इस रूट पर कोई भी आएचआरटीसी की बस नहीं चल रही है. इससे लोगों को शहर से गांव जाने में परेशानी हो रही है. बस की सुविधा नहीं होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में मूलभूत विकास के दावें हवाई हवाई हो रहे हैं. ग्रामीणों का आरोप है कि नौ पंचायतों का पटवार सर्किल नेऊली में है. ऐसे में आए दिन लोग ऑटो में अधिक खर्च कर यातायात करने को मजबूर हैं.

‘धर्मगुरु दलाई लामा के अनुयायी हैं जो बाइडन’, निवार्सित तिब्बतियों की वतन वापसी की उम्मीदें बढ़ीं



आठ माह पहले प्रशासन ने इस सड़क को बस योग्य पास किया है, लेकिन इसके बाद भी इस रूट पर बस नहीं चल पाई है. जिससे देवधार, नेऊली, थरमाण, ग्राहण सहित 9 पंचायत के लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में लोक निर्माण विभाग सड़क से अवैध कब्जे हटाने के लिए डिमार्केशन की बात कर रहा है और सड़क बस योग्य पास है इसकी जानकारी दे रहा है. लेकिन दूसरी तरफ आरएम साहब बस चलाने का आश्वासन दे रहे हैं, जिससे जनमंच में भी ग्रामीणों ने इस म़ुद्दे को उठाया था. उसके बाबजूद ग्रामीण प्रशासन से यातायात की सुविधा के लिए बस चलाने की मांग कर रहे हैं.
लोक निर्माण विभाग डिविजन 2 के अधिशाषी अभियंता एसके धीमान ने बताया कि देवधार, नेऊली, थरमाण, ग्राहण सड़क में जीरो प्वाइंट अवैध कब्जा नोटिस किया है, जिसके लिए राजस्व विभाग को डिमार्केशन को लिखा है. डिमार्केशन होने के बाद वैध कब्जे को हटाया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस सड़क को 20 मार्च 2020 को फिटनेस रोड़ कमेटी के द्वारा पास किया गया है. उन्होंने कहा कि बस जीरो प्वाइंट से टर्न नहीं होगी. इससे 5 सौ मीटर डोभी स्कूल के पास मुड़ेगी. जिससे डोभी स्कूल तक की जनता को भी यातायात का फायदा मिलेगा. उन्होंने कहाकि 3 किलोमीटर सड़क पास की गई है, जबकि 1 किलोमीटर सड़क का निर्माण होना है. ऐसे में ग्रामीण जमीन देंगे तो इस ऐरिया में सड़क का निर्माण होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज