शिमला: डेढ़ साल के मासूम को आंगन से उठाकर ले गया आदमखोर तेंदुए, जंगल में मिला शव

शिमला में डेढ़ साल के मासूम को आदमखोर तेंदुए ने शिकार बनाया है.
शिमला में डेढ़ साल के मासूम को आदमखोर तेंदुए ने शिकार बनाया है.

शिमला (Shimla) के एक गांव में आदमखोर तेंदुआ (Leopard) एक बच्चे को आंगन से उठाकर ले गया. लोगों ने पीछा किया तो बच्चे को जंगल (Forest) में छोड़ गया भाग गया, लेकिन तब तक बच्चे की मौत (Death) हो चुकी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2020, 1:00 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल (Himachal) के शिमला जिले की चौपाल क्षेत्र में एक आदमखोर तेंदुए (Leopard) ने डेढ़ साल के मासूम को अपना शिकार बना लिया. घटना नेरवा क्षेत्र की रूसलाह पंचायत के शेईला गांव की है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घटना शनिवार देर शाम करीब 8 से नौ बजे के करीब बताई जा रही है. बच्चा घर के आंगन में खेल रहा था तभी अचानक आया एक तेंदुआ उसे उठाकर घर से ले गया. उस वक्त बच्चे के माता-पिता भी आसपास ही थे, लेकिन वह चाहकर भी बच्चे को बचा नहीं सके.

हिमाचल-तिब्बत बॉर्डर पर हिंदुस्तान के आखिरी गांव चारंग मे पहली बार बजी फोन की घंटी, WiFi सुविधा भी मिली

शोर मचाने पर जंगल में छोड़ा मासूम
तेंदुए ने जब बच्चों को उठाया तो उसके परिजनों ने शोर मचाया, जिसके बाद गांव के लोग इकट्ठे हुये और तेंदुए के पीछ भागे. लोगों के शोर मचाने और पीछे भागने के कारण तेंदुए ने थोड़ी दूर जाने के बाद जंगल के बीच में बच्चे को छोड़ दिया और भाग गया. तब तक तेंदुए ने बच्चे को नोच डाला था. डीएसपी राज कुमार ने बताया कि परिजन बच्चे को तुरंत नेरवा अस्पताल लेकर गए, जहां डक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया.आज शव का पोस्टमॉर्टम किया जाएगा.
इलाके में दहशत का माहौल


पीड़ित परिवार नेपाली मूल का है और दिहाड़ी-मजदूरी कर गुजारा करता है. ये परिवार शेईला गांव में जंगल के समीप किराए के मकान में रहता है. पीड़ित पिता का नाम दिनेश बहादुर है, जो अपनी पत्नी और बच्चों के सीाथ यहां रहता है. बच्चे का नाम विशाल था. इस घटना से इलाके में दहशत का माहौल है. स्थानीय लोग अपने बच्चों को बाहर घूमने के लिए नहीं जाने देते हैं. साथ ही लोगों ने स्थानीय प्रशासन से जल्द से जल्द इस तेंदुए को पकड़ने की मांग की है, जिससे कि उनकी और उनके बच्चों की जान बचाई जा सके. वहीं प्रशासनिक अधिकारियों ने भी तेंदुए को पड़ने का भरोसा दिलाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज