शिमला: मानव भारती विश्वविद्यालय के फर्जी डिग्री मामले में पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया एक और आरोपी

मानव भारती यूनिवर्सिटी का फाइल फोटो.
मानव भारती यूनिवर्सिटी का फाइल फोटो.

सोलन (Solan) स्थित मानव भारती यूनिवर्सिटी (Manav Bharti University) के द्वारा फर्जी डिग्री देने के मामले में एसआईटी (SIT) ने बुधवार को दिल्ली (Delhi) से एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. पुलिस आज आरोपी को सोलन के कोर्ट में पेश करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 3:29 PM IST
  • Share this:
शिमला. फर्जी डिग्री (Fake Degree) मामले में मानव भारती विश्वविद्यालय (Manav Bharti University) की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. इस मामले में पुलिस (Police) के विशेष जांच दल ने छठी गिरफ्तारी की है. सोलन स्थित मानव भारती यूनिवर्सिटी से फर्जी डिग्री लेने वाले एक शख्स को एसआईटी ने बुधवार देर शाम दिल्ली (Delhi) से गिरफ्तार किया है. पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर सोलन ले आई है, जहां आरोपी को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा.

बी.कॉम की डिग्री निकली फर्जी
डीआईजी विमल गुप्ता ने बताया कि आरोपी का नाम केवल शर्मा है. केवल शर्मा ने 2010-2013 के सत्र के दौरान बी.कॉम की डिग्री ली थी. जांच में ये डिग्री फर्जी पाई गई है. जानकारी के अनुसार आरोपी ने बतौर छात्र ये डिग्री नहीं ली है बल्कि खरीदी है. आपको बता दें कि मानव भारती विश्वविद्यालय पर लाखों फर्जी डिग्रियां बनाने और बेचने का आरोप है.

हिमाचल में मौसम: शिमला, मंडी और कांगड़ा समेत 5 जिलों में बारिश, गर्मी से राहत
ईडी और इनकम टैक्स विभाग की जांच जारी


इस मामले पर विधानसभा के मॉनसून सत्र के दौरान सीएम जयरम ठाकुर ने कहा था कि इस मामले की जांच का जिम्मा एडीजी सीआईडी एन. वेणुगोपाल की अध्यक्षता वाली 19 सदस्यीय विशेष जांच टीम को सौंपा जाएगा. इस पर डीजीपी ने कहा कि सीएम के निर्देशों के तहत एसआईटी ने जांच शुरू कर दी है. इस मामले में पैसों के लेन-देन और आयकर को लेकर ईडी और इनकम टैक्स विभाग भी जांच में जुटे हैं.

लाखों की डिग्रियां बेचकर 100 करोड़ कमाने का आरोप

इस मामले पर विवि का संचालन करने वाले राजकुमार राणा, रजिस्ट्रार अनुपमा, सहायक रजिस्ट्रार मनीष गोयल, डाटा ऑपरेटर प्रमोद कुमार के अलावा विवि के नशा मुक्ति केंद्र के संचालक जतिन नागर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. अब पुलिस ने मामले में छठवीं गिरफ्तारी दिल्ली से की है. सोलन स्थित मानव भारती यूनिवर्सिटी की जांच के लिए विशेष टीम का गठन किया गया था. आपको बता दें कि पुलिस ने धारा 420, 467,468 व 120 के तहत मामला दर्ज किया है. इस मामले में एक महिला ने 3 मार्च 2020 को फर्जी डिग्री बनाने और बेंचने की शिकायत की थी. इसके बाद मामले की जांच शुरू हुई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज