Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल उपचुनाव: देश के पहले वोटर 104 ‌वर्षीय श्याम शरण नेगी बोले-मतदान के लिए तैयार

हिमाचल उपचुनाव: देश के पहले वोटर 104 ‌वर्षीय श्याम शरण नेगी बोले-मतदान के लिए तैयार

संजय गोयल ने देश के प्रथम मतदाता श्याम सरन नेगी को सम्मानित भी किया.

संजय गोयल ने देश के प्रथम मतदाता श्याम सरन नेगी को सम्मानित भी किया.

By Elections in Himachal: श्याम सरण नेगी का जन्म जुलाई 1917 को किन्नौर के कल्पा में हुआ. 10 साल की उम्र में स्कूल गए नेगी की पांचवीं तक की पढ़ाई कल्पा में हुई. वह आजाद भारत के पहले वोटर कहलाए जाते हैं.

    रिकॉन्गपिओ. हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले से देश के पहले वोटर श्याम शरण नेगी का इस उम्र में भी वहीं जज्बा बरकरार है. वह 104 साल की उम्र में वोट डालने जाएंगे.किन्नौर विधानसभा क्षेत्र के लिए तैनात ऑबजर्वर डॉ. संजय गोयल ने स्वतंत्र भारत के प्रथम मतदाता श्याम सरन नेगी से उनके कल्पा स्थित आवास पर जाकर भेंट की. यह एक शिष्टाचार भेंट थी. भेंट के दौरान प्रथम मतदाता श्याम सरन नेगी ने गोयल को बताया कि वर्ष 1951 में आयोजित प्रथम संसदीय चुनाव से लेकर आज तक उन्होंने सभी लोकसभा, विधानसभा, व पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में मतदान किया है.

    श्याम सरन ने बताया कि वे 30 अक्तूबर, 2021 को होने वाले उपचुनाव में भी मतदान करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की मजबूती के लिए सभी को अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए. संजय गोयल ने देश के प्रथम मतदाता श्याम सरन नेगी को सम्मानित भी किया. इस अवसर पर सहायक निर्वाचन अधिकारी एवं उपमण्डलाधिकारी कल्पा स्वाति डोगरा भी उपस्थित थी.

    अब भी बरकरार है वोट डालने का जब्जा
    देश के प्रथम मतदाता श्याम शरण नेगी में मतदान को लेकर अब भी जज्बा बरकरार है. हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव के दौरान 13729 मतदाता ऐसे हैं, जिन्होंने पोस्टल बैलेट की सुविधा के लिए आवेदन किया, लेकिन 104 वर्षीय देश के प्रथम मतदाता श्याम सरण नेगी ने कहा कि 30 अक्तूबर को वह मतदान केंद्र में जाकर वोट डालेंगे. प्रशासन इस बार भी मतदान के दिन बूथ पर रेड कारपेट बिछाकर उनका स्वागत करेगा.

    संजय गोयल ने देश के प्रथम मतदाता श्याम सरन नेगी को सम्मानित भी किया.

    बुजुर्गों को आयोग दे रहा है सुविधा
    बता दें कि चुनाव आयोग ने हिमाचल में उपचुनाव में पहली बार 80 साल से ज्यादा उम्र और दिव्यांग मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट की सुविधा शुरू की है.हालांकि, नेगी की अब सुनने और देखने की क्षमता कम हो गई है. वह ज्यादा बोल नहीं पा रहे हैं. श्याम सरण नेगी का जन्म जुलाई 1917 को किन्नौर के कल्पा में हुआ. 10 साल की उम्र में स्कूल गए नेगी की पांचवीं तक की पढ़ाई कल्पा में हुई. वह आजाद भारत के पहले वोटर कहलाए जाते हैं.

    Tags: Himachal Politics, Shimla

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर