एक दिवसीय मेला में जिले के शिल्पकारों ने अपने उत्पादों की लगाई प्रदर्शनी

जनजातीय जिला मुख्यालय रिकांगपिओं के रामलीला मैदान पर जनजातीय सहकारी विपन्न विकास संघ ट्राईफेड की ओर से एक दिवसीय जनजातीय शिल्पकार मेला का आयोजन किया गया.

arun kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 14, 2018, 4:55 PM IST
एक दिवसीय मेला में जिले के शिल्पकारों ने अपने उत्पादों की लगाई प्रदर्शनी
सहायक आयुक्त सुरेन्द्र ठाकुर एक शिल्पकार की कला को देखते हुए
arun kumar | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 14, 2018, 4:55 PM IST
जनजातीय जिला मुख्यालय रिकांगपिओं के रामलीला मैदान पर जनजातीय सहकारी विपन्न विकास संघ ट्राईफेड की ओर से एक दिवसीय जनजातीय शिल्पकार मेला का आयोजन किया गया. मेला का शुभारंभ सहायक आयुक्त सुरेन्द्र ठाकुर ने किया. एक दिवसीय शिल्पकार मेले में जिले के बहुत से शिल्पकारों व स्वंय सहायता समूहों ने शिरकत की. इस दौरान सहायक आयुक्त ने कहा कि किन्नौर के शिल्पकारों द्वारा तैयार स्थानीय उत्पाद को उचित मंडियों तक पहुंचाने के लिए ट्राईफेड ने बीड़ा उठाया है. ट्राईफेड के माध्यम से किन्नौर के उत्पाद को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए रिकांगपिओं में इस एक दिवसीय शिल्पकार मेला का आयोजन किया है.

उन्होंने कहा कि मेले का मुख्य आयोजन किन्नौर के शिल्पकारों के उत्पादों को पहचान दिलाने के लिए ही है. इस अवसर पर ट्राईफेड के सहायक प्रबंधक एसके नागर ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में उत्पाद तो तैयार हो जाता है लेकिन उन उत्पादों को उचित मंडी प्राप्त नहीं होती. इसी लिए भारत सरकार के जनजातीय मन्त्रालय ने जनजातीय शिल्पकारों की उत्पाद को उचित मंडियों तक पहुंचाने के लिए ट्राईफेड का गठन किया है. सरकार की ओर से पूरी कोशिश की जा रही है जनजातीय शिल्पकारों के उत्पादों को राष्ट्रीय स्तर के मंडियों तक पहुंचा कर शिल्पकारी को और आगे बढाया जाए सके।
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर