हिमाचल के किन्नौर के पांगी गाँव में टूटा पहाड़, चपेट में आए मजदूर की मौत
Reckong-Peo News in Hindi

हिमाचल के किन्नौर के पांगी गाँव में टूटा पहाड़, चपेट में आए मजदूर की मौत
किन्नौर के पांगी गांव में लैडस्लाइड.

Landslide in Kinnaur: पांगी पँचायत के नेत्र सिंह नेगी ने बताया कि उनके गाँव में अचानक पिरी की पहाड़ियों के मध्य से बड़े-बड़े चट्टान गिरकर गाँव की तरफ आए है, जिसमें बगीचों को नुकसान हुआ है.

  • Share this:
रिकॉन्गपिओ (किन्नौर). हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिला किन्नौर (Kinnaur) के कल्पा खण्ड के तहत पांगी गाँव में बुधवार को करीब 10 बजे पिरी रेंज से पहाड़ टूट गया. इससे ग्रामीणों के बगीचे (Orchard) तबाह हुए हैं. हालांकि, इस घटना में एक शख्स की मौत हो गई है.

बगीचों में काम कर रहे थे लोग
जानकारी के अनुसार, पांगी गाँव (Pangi Village) में सुबह 10 बजे अचानक पहाड़ियों से गड़गड़ाहट की आवाज आने लगी. इसके बाद आसपास के बगीचों में काम करने वाले लोगों ने खूब शोर मचाया. पहाड़ियों से बड़े-बड़े चट्टान सीधे गाँव की तरफ आने लगी तो आनन-फानन में कुछ बगीचों में काम करने वाले लोग अपनी जान बचाकर इधर उधर भागे. इतने में पहाड़ी से गिरे चट्टानों और भयंकर धूल ने सेब के लाखो के बगीचों को अपने आगोश में ले लिया. इस दौरान एक घर पर पत्थर गिरे हैं, जिसमें नेपाली मजदूर की मौत हो गई है.

धूल का गुब्बार उठा
पांगी पँचायत के नेत्र सिंह नेगी ने बताया कि उनके गाँव में अचानक पिरी की पहाड़ियों के मध्य से बड़े-बड़े चट्टान गिरकर गाँव की तरफ आए है, जिसमें बगीचों को नुकसान हुआ है. अभी ग्रामीणों व प्रशासन का मौके पर जाना भी खतरनाक साबित हो सकता है. क्योंकि पहाड़ियों से चट्टान व धूल आने का क्रम जारी है. साथ ही पुलिस को इस विषय की सूचना दे दी गयी थी.



किन्नौर में लैंडस्लाइड
गौरलतब है कि किन्नौर में सर्दियों के दौरान जहां हिमखंड गिरते रहते हैं. वहीं, आम दिनों में इस तरह की लैंडस्लाइड होती रहती है. यहां पावर प्रोजेक्ट के चलते पहाड़ों की बहुत ही ज्यादा खुदाई की गई है. इससे पहाड़ टूटटे रहते हैं. वहीं, हाईवे निर्माण के चलते ही अक्सर सड़कों पर लैंडस्लाइड होता रहता है.

ये भी पढ़ें: लॉकडाउन: शिमला में अब घर बैठे जमा करवाएं पानी के बिल

हिमाचल के चिड़गांव में फिर से आग का तांडव,1 शख्स जिंदा जला, 2 झुलसे, 7 घर राख

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज