मई में बर्फबारी और बारिश से ठंड लौटी, लोगों ने निकाले गर्म कपड़े

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर की पहाड़ियों पर मई माह भी बर्फबारी हो रही है और यहां निचले क्षेत्रों में जमकर बारिश हो रही है.

News18 Himachal Pradesh
Updated: May 26, 2019, 8:48 AM IST
News18 Himachal Pradesh
Updated: May 26, 2019, 8:48 AM IST
हिमाचल प्रदेश के किन्नौर की पहाड़ियों पर मई माह भी बर्फबारी हो रही है और यहां निचले क्षेत्रों में जमकर बारिश हो रही है. मई माह में भी पहाड़ियों पर बर्फबारी होने से किन्नौर जिले शीतलहर की चपेट में आ गई. बारिश व बर्फबारी होने से जिले के किसान बागवान खुश है. यह बारिश जिले में पैदा होने वाली मुख्य नकदी फसल सेब, काला जीरा, खुमानी, बादम के लिए अमृत समान है. जिले भर में हो रही बारिश से एक ओर जहां किसान और बागवान खुश हैं, वहीं दूसरी ओर जिले के ऊंचाई वाले क्षेत्रों के किसान बागवान मायूस भी हैं, क्योंकि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में इस समय मटर, औगला, आलू और फाफरा की बिजाई होनी है.

बारिश व बर्फबारी के कारण इन क्षेत्रों के किसान और बागवान फसल की बिजाई नहीं कर पा रहे हैं. किन्नौर जिले के चारंग गांव के बागवान सुरेन्द्र नेगी ने कहा कि बर्फबारी व बारिश निचले क्षेत्रों के किसान और बागवानों के लिए तो लाभदायक है, लेकिन ऊंचाई वाले क्षेत्रों के लिए कठिनाई पेश कर रही है.



(किन्नौर से अरुण नेगी की रिपोर्ट)

यह भी पढ़ें: भूतनाथ पुल की मजिस्ट्रेट जांच अधूरी, कुल्लू के डीसी ने दिए दोबारा जांच के आदेश

लहसुन की बंपर फसल से खिले किसानों के चेहरे, आमदनी बना जरिया

कुल्लू के पोलिंग स्टेशन 38 में प्रीजाइडिंग ऑफिसर हुए सस्पेंड, की ये गलती...
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...