हिमाचल प्रदेश: कोरोना से नवजात की मौत, 5 जून को IGMC में कराया गया था भर्ती

हिमाचल प्रदेश: कोरोना संक्रमण घटने के बाद भी हो रहीं कोरोना से मौत.

हिमाचल प्रदेश: कोरोना संक्रमण घटने के बाद भी हो रहीं कोरोना से मौत.

हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर भले ही थम गया है, लेकिन कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा लगातार जारी है. जिला शिमला में कोरोना वायरस का प्रकोप भी थम गया है. जिसके चलते एक सप्ताह पहले जो 200 से 250 मामले आ रहे थे, वह अब 60 से 100 के बीच आ रहे हैं.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश ( himachal pradesh) में कोरोना वायरस का कहर भले ही थम गया है, लेकिन कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा लगातार जारी है. जिला शिमला ( shimla) में कोरोना वायरस का प्रकोप भी थम गया है. जिसके चलते एक सप्ताह पहले जो 200 से 250 मामले आ रहे थे, वह अब 60 से 100 के बीच आ रहे हैं. सोमवार को जिला में 64 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 6 संक्रमितों की मौत हुई है. मरने वालों में 11 दिन का बच्चा भी है जो 5 जून को आईजीएमसी के कोविड वार्ड में भर्ती किया था.

सीएमओ शिमला डॉ सुरेखा चोपड़ा ने बताया कि यह बच्चा जिला शिमला के रंगोरी गांव का रहने वाला था, जिसे 5 जून को आईजीएमसी में भर्ती करवाया गया था. 5 जून को ही बच्चे में एसिम्प्टोमैटिक पाया गया था. इस बच्चे के अलावा मरने वालों में विभिन्न आयु वर्ग के लोग थे, जिसमें 70 साल आयुवर्ग की महिला थी. कुल मिलाकर कोरोना वायरस संक्रमण से मरीजों की संख्या भले ही कम हुई है, लेकिन कोरोना संक्रमित लोगों की मौत की खबरें अभी भी लगातार आ रही हैं.

जिला शिमला में कोरोना के 915 एक्टिव मामले

बता दें कि जिला में मौजूदा समय में जिले में 915 एक्टिव मामले हैं, जबकि अब तक 575 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि कोरोना वायरस से बचने के लिए प्रशासन ने वैक्सिनेशन अभियान चलाया है. जिसमें 45 साल से ज्यादा आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है. हालांकि स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण केंद्र कम कर दिए हैं. जिसके चलते कम ही लोगों को टीका लग रहा है. वैक्सिनेशन की कमी के चलते जिला में फिलहाल 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों को टीका नहीं लगाया जा रहा है. वहीं स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि 10 जून के बाद 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज