• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • Kangra Corona: तिब्बतियन इंस्टीट्यूट नोरबलिंगा इलाके में मिले 28 कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

Kangra Corona: तिब्बतियन इंस्टीट्यूट नोरबलिंगा इलाके में मिले 28 कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

कांगड़ा जिले के एक क्लस्टर में कोरोना के एक साथ 28 केस सामने आये हैं. क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाने की मांग की गई है.

कांगड़ा जिले के एक क्लस्टर में कोरोना के एक साथ 28 केस सामने आये हैं. क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन बनाने की मांग की गई है.

Kangra Corona News: CMO डॉ. विराग गुप्ता ने कहा कि विभाग ने जिला प्रशासन से आग्रह किया है कि इस क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाये. सीएमओ कांगड़ा ने कहा कि वैक्सीनेशन कोरोना संक्रमण से बचने का एक कारगर उपाय है.

  • Share this:

कांगड़ा. हिमाचल प्रदेश के सबसे बड़े जिला कांगड़ा में कोरोना की रफ्तार (Speed Of Corona) थमने का नाम नहीं ले रही है, हमीरपुर के बाद सबसे ज्यादा कोरोना के केस कांगड़ा में ही दर्ज किये गये हैं. इन 69 मामलों में से एक क्लस्टर तिब्बतियन इंस्टीट्यूट नोरबलिंगा (Tibetan Institute Norbalinga) में 28 लोग कोरोना पॉजिटिव (28 Corona Positive) आये हैं, एक साथ इतने केस सामने आने पर इलाके में हड़कंप मच गया है. कांगड़ा में अगर कोरोना के आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है, हालांकि एकसाथ एक जगह पर कोविड केस तो सामने नहीं आये थे. मगर अब ये भी देखने को मिल रहा है, लंबे वक्त के बाद 69 मामले एक साथ एक ही स्टेशन में दर्ज किए गए हैं.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) डॉक्टर गुरदर्शन गुप्ता ने बताया कि इन 69 मामलों में से एक क्लस्टर तिब्बतियन इंस्टीट्यूट नोरबलिंगा में सामने आया है. सीएमओ ने बताया कि इस क्षेत्र से पिछले एक-दो दिनों से मामले सामने आ रहे थे. जिसके उपरांत विभाग द्वारा इस क्षेत्र की कांटेक्ट ट्रेसिंग की गई और विभाग की ओर से बीते कल 93 सैंपल लिए गए जिसकी रिपोर्ट आने पर पहले 17 लोग पॉजिटिव पाये गये हैं. उन्होंने कहा कि अभी तक इस इंस्टिट्यूट से 28 लोग पॉजिटिव पाए जा चुके हैं. सीएमओ ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की टीमें आज भी नोरबलिंगा में कांटेक्ट ट्रेसिंग में जुटी हुई है.

क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित करने की मांग

सीएमओ डॉ. गुप्ता ने कहा कि इस तिब्बतियन इंस्टीट्यूट में 300 के आसपास लोग रहते हैं. सभी लक्षण वाले लोगों को जांच करने के आदेश उन्होंने दे दिये हैं. साथ ही उनके प्राइमरी कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है. डॉ. गुप्ता ने कहा कि विभाग ने जिला प्रशासन से आग्रह किया है कि इस क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाये. सीएमओ कांगड़ा ने कहा कि वैक्सीनेशन कोरोना संक्रमण से बचने का एक कारगर उपाय है. जिला कांगड़ा में अभी तक 11 लाख 59 हजार लोगों को कोविड वैक्सीन की प्रथम डोज लगाई जा चुकी है, जोकि लगभग 100 प्रतिशत है. डॉ. गुप्ता ने कहा कि जिला कांगड़ा में लगभग 44 प्रतिशत आबादी को कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लगाई जा चुकी हैं. सीएमओ ने लोगों से अपील की कि सभी पात्र लोग जिन्हें प्रथम और दूसरी डोज लगनी है वह जल्द से जल्द अपनी वैक्सीनेशन करवायें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज