Home /News /himachal-pradesh /

शिमला: काम दिलवाने के नाम पर 57.62 लाख रुपये की ठगी, शातिर ने 9 ठेकेदारों को लगाया चूना

शिमला: काम दिलवाने के नाम पर 57.62 लाख रुपये की ठगी, शातिर ने 9 ठेकेदारों को लगाया चूना

शिमला में 9 ठेकेदारों से ठगी

शिमला में 9 ठेकेदारों से ठगी

Fraud in Shimla: शातिर शख्स विभाग में सड़क बनाने का काम दिलवाने के नाम पर लोगों को झांसे में लेता था, प्रोसेसिंग फीस और अन्य कार्यों के लिए एडवांस पैसे लेता था. आरोपी की पहचान मध्य प्रदेश के इंदौर के बड़ा मठ रोड जी-4 के रहने वाले राकेश कुमार के रूप में हुई है.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) में काम दिलवाने के नाम पर ठगी का एक बड़ा मामला सामने आया है. मध्य प्रदेश के रहने वाले एक शख्स ने खुद को केंद्रीय रोड ट्रांसपोर्ट और हाइवे का चीफ इंजीनियर बताकर 9 ठेकेदारों (Contractors) को अपने जाल में फंसाया और 57 लाख 62 हजार 561 रुपये का चूना लगाकर फरार हो गया.

मामला छोटा शिमला थाने का है. ठगी का शिकार हुए लोगों की शिकायत पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है और आरोपी की तलाश की जा रही है. शिमला की एसपी मोनिका भुटूंगरू ने इसकी पुष्टि की है.

काम दिलवाने के नाम पर लोगों को झांसे में लेता था

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शातिर शख्स विभाग में सड़क बनाने का काम दिलवाने के नाम पर लोगों को झांसे में लेता था, प्रोसेसिंग फीस और अन्य कार्यों के लिए एडवांस पैसे लेता था. आरोपी की पहचान  मध्य प्रदेश के इंदौर के बड़ा मठ रोड जी-4 के रहने वाले राकेश कुमार के रूप में हुई है. शिमला के जगदीश प्रसाद, किशन कुमार, बलवान, संजय रावत, मनोज कुमार, काशी राम, अनुराग, संदीप और महेंद्र सिंह ठगी का शिकार हुए हैं.

मामले की जांच में जुटी पुलिस

आरोपी ने जगदीश प्रसाद को 5 लाख 17 हजार 781 रुपये, किशन कुमार को 7 लाख रुपये, बलवान को भी 7 लाख रुपये, संजय रावत से 1 लाख 44 हजार 780 रुपये, मनोज कुमार, काशी राम, अनुराग और संदीप को 7-7 लाख रुपये और महेंद्र सिंह को 9 लाख रुपये का चूना लगाया. पुलिस मामले से जुड़े हर पहलू पर जांच कर रही है.

Tags: Crime News, Fraud, Himachal Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर