लाइव टीवी

पुलिस द्वारा पीटे जाने पर पीड़ित संदीप ने कहा- मुझे बेवजह पीटा, मैंने शराब नहीं पी थी

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 2, 2019, 5:03 PM IST
पुलिस द्वारा पीटे जाने पर पीड़ित संदीप ने कहा- मुझे बेवजह पीटा, मैंने शराब नहीं पी थी
संदीप कुमार ने कहा कि पुलिस ने उसे बिना बात के पीटा.

पीड़ित संदीप (Sandeep) का कहना है कि उसने शराब (not Drunken) नहीं पी थी, लेकिन फिर भी पुलिस (Himachal Police) ने तीनों को शराबी बताया. संदीप ने बताया कि पुलिस ने जिन अन्य दो लोगों की पिटाई की गई है, वह सेना (Retired Armyman) से सेवानिवृत हैं.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में शिमला जिले की नेरवा (Nerwa Police lathi charge Accident) में पुलिस की लाठी खाने वाले 3 युवकों में से एक युवक ने बड़ा बयान दिया है. न्यूज 18 हिमाचल से बातचीत में संदीप कुमार (Sandeep Kumar) ने कहा कि वह घटना वाले दिन अपने काम से नेरवा गए थे. उन्होंने बताया कि वह जब घटनास्थल पर पहुंचे तो वहां पर पहले से ही दो गुटों में लड़ाई हो रही थी और इस झगड़े में उनका भाई भी शामिल था. ऐसे में वह बीच बचाव के लिए आ गए थे. इस बीच जैसे ही पुलिस पहुंची तो एकतरफा कार्रवाई करना शुरू कर दिया. संदीप का कहना है कि उसने शराब नहीं पी थी, लेकिन फिर भी पुलिस ने तीनों को शराबी बताया. संदीप ने बताया कि पुलिस ने जिन अन्य दो लोगों की पिटाई की गई है, वह सेना से सेवानिवृत (Retired Army man) हैं.

सीएम के हस्तक्षेप के बाद तीन पुलिसकर्मी निलंबित

संदीप ने कहा कि थाने के भीतर भी पुलिस और स्थानीय दबंगो ने उनके साथ बदसलूकी की. इस बाबत मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर पूरी घटना की जानकारी दी है. आपको बता दें कि मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद जिला पुलिस ने एसएचओ समेत 3 पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है.

Sandeep kumar
संदीप ने कहा कि थाने के भीतर भी पुलिस और स्थानीय दबंगो ने उनके साथ बदसलूकी की.


इस मामले में समाजसेवी और स्थानीय लोग कई तरह से सवाल उठा रहे हैं. नेरवा क्षेत्र में कानून-व्यवस्था को ठेंगा दिखाने वालों पर कार्रवाई न होने पर भी लोगों में खासा रोष है. मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद हुई कार्रवाई के लिए लोगों ने आभार जताया है.

इस घटना की जांच के लिए एडिश्नल एसपी प्रवीर ठाकुर जल्द ही नेरवा पहुंचेगे. शिमला में सोमवार को उनका मेडिकल करवाया जाएगा, जिनकी पिटाई हुई थी.

यह भी पढ़ें: CM जयराम ठाकुर ने दी नौकरियों की सौगात, कहा-कॉन्सटेबल के 1000 पद भरे जाएंगे
Loading...

मोबाइल के टॉर्च की रोशनी में ग्रामीणों ने थाने पर सर्वजीत का शव डाल किया विरोध

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 3:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...