हिमाचल में कैबिनेट विस्तार के बाद विभागों में बड़ा फेरबदल, जानें किस मंत्री को क्या मिला?
Shimla News in Hindi

हिमाचल में कैबिनेट विस्तार के बाद विभागों में बड़ा फेरबदल, जानें किस मंत्री को क्या मिला?
सीएम जयराम ठाकुर के साथ 11 मंत्री.

डॉ. राजीव सैजल को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, आयुर्वेद मंत्री बनाया गया है. यह महकमा खाली चल रहा था. वहीं, हाल ही में कैबिनेट में शामिल सुखराम चौधरी को ऊर्जा व गैर परंपरागत ऊर्जा स्रोत विभाग दिया गया है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में मंत्रीमंडल विस्तार (Cabinet Minister) के बाद अब विभागों में बड़ा फेरबदल हुआ है. सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने मंत्रिमंडल में सभी सदस्यों की नियुक्ति के 24 घंटे बाद शुक्रवार देर रात विभाग आवंटित कर दिए. शुक्रवार को दिनभर केंद्रीय नेतृत्व के साथ मंत्रणा के बाद मुख्यमंत्री (CM) ने 2022 के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए अपने मंत्रियों को विभाग बांटे गए. सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार, वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह (Mahender Singh), उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह और वीरेंद्र कंवर को अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है.

महेंद्र सिंह को अतिरिक्त जिम्मेदारी
जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह को राजस्व विभाग का अतिरिक्त जिम्मा सौंपा गया है. वहीं, पंचायत और पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर को कृषि और उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह को परिवहन विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. सभी मंत्रियों के दायित्वों में बड़ा बदलाव किया गया है.
शिक्षा मंत्री रहे सुरेश भारद्वाज से लेकर सरवीण चौधरी, डॉ. रामलाल मारकंडा, गोविंद ठाकुर, डॉ. राजीव सैजल तक के पुराने मुख्य विभाग लेकर दूसरे मंत्रियों को देकर नए महकमों का जिम्मा सौंपा गया है. नए बने मंत्री सुखराम चौधरी को मुख्यमंत्री ने अपने पास से ऊर्जा और राजेंद्र गर्ग को खाद्य आपूर्ति विभाग दिया है. वहीं, राकेश पठानिया को वन एवं युवा खेल विभाग का जिम्मा सौंपा गया है.
हिमाचल में कैबिनेट मंत्रियों के विभागों में फेरबदल.
हिमाचल में कैबिनेट मंत्रियों के विभागों में फेरबदल.




जानिये अब किसके पास कौन सा विभाग
सीएम जयराम ठाकुर के पास वित्त, सामान्य प्रशासन, गृह, प्लानिंग, कार्मिक, पीडब्ल्यूडी, पर्यटन, आबकारी एवं कराधान विभाग और अन्य मंत्रियों को न मिलने वाले सभी विभाग हैं. इसके अलावा, महेंद्र सिंह ठाकुर के पास जल शक्ति, राजस्व, बागवानी, सैनिक कल्याण मंत्रालय है. उन्हें राजस्व विभाग का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. सुरेश भारद्वाज को शिक्षा मंत्रालय लेकर अब शहरी विकास, टीसीपी, हाउसिंग, संसदीय कार्य, कानून, सहकारिता विभाग दिया गया है. सरवीण चौधरी पहले अबर्न डेवलेपमेंट मंत्री थी, जो अब सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री बनाई गई हैं. डॉ. रामलाल मारकंडा से कृषि मंत्रालय ले लिया गया है. अब उनके पास तकनीकी शिक्षा, जनजातीय विकास, आईटी, जन शिकायत निवारण विभाग रहेगा. वीरेंद्र कंवर के पास ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, पशुपालन, मत्स्य विभाग होंगे. उन्हें कृषि मंत्री की जिम्मेदारी भी दी गई है. बिक्रम सिंह के पास उद्योग, परिवहन, श्रम एवं रोजगार विभाग है. उन्हें परिवहन मंत्री की नई जिम्मेदारी सौंपी गई है. गोविंद सिंह ठाकुर के पास अब उच्च एवं प्रारंभिक शिक्षा, भाषा, कला एवं संस्कृति विभाग का जिम्मा रहेगा. उनसे खेल और वन और परिवहन विभाग ले लिया गया है.

सैजल को स्वास्थ विभाग
डॉ. राजीव सैजल को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, आयुर्वेद मंत्री बनाया गया है. यह महकमा खाली चल रहा था. वहीं, हाल ही में कैबिनेट में शामिल सुखराम चौधरी को ऊर्जा व गैर परंपरागत ऊर्जा स्रोत विभाग दिया गया है. इसके अलावा, राकेश पठानिया वन, युवा सेवा एवं खेल और राजेंद्र गर्ग को खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, प्रिंटिंग एवं स्टेशनरी विभाग की नई जिम्मेदारी दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading