लाइव टीवी

शिमला: ऑरेंज अलर्ट के बाद प्रशासन ने कसी कमर, बर्फबारी से निपटने के लिए सभी विभागों को दिए निर्देश
Shimla News in Hindi

Reshma Kashyap | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 12, 2020, 6:53 PM IST
शिमला: ऑरेंज अलर्ट के बाद प्रशासन ने कसी कमर, बर्फबारी से निपटने के लिए सभी विभागों को दिए निर्देश
शिमला में डीसी शिमला ने ऑरेंज अलर्ट से निपटने के लिए बुलाई बैठक

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)में एक बार फिर से मौसम विभाग ने 13 जनवरी का ऑरेंज अलर्ट (Orange alert) जारी कर दिया है. मौसम विभाग के अनुसार 16 जनवरी को मौसम अपने कड़े तेवर दिखा सकता है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला  (Shimla) में 8 जनवरी को हुई बर्फबारी (snowfall) के बाद लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. शिमला सहित ऊपरी क्षेत्रों की सड़कें बंद हो जाने के कारण लोगों का जीवन भी थम सा गया था. जिला प्रशासन बर्फबारी के तीन दिन बाद भी सड़कें खोलने में असमर्थ रहा था. वहीं अब फिर मौसम विभाग (weather department) ने 13 से 17 जनवरी तक मौसम खराब रहने  सूचना जारी की है. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)में एक बार फिर से मौसम विभाग ने 13 जनवरी का ऑरेंज अलर्ट (Orange alert) कर दिया है. मौसम विभाग के अनुसार 16 जनवरी को मौसम अपने कड़े तेवर दिखा सकता है. ऐसे में मौसम विभाग के जारी किए गए अलर्ट के चलते शिमला जिला प्रशासन (District administration) ने भी कमर कस ली है.

डीसी शिमला ने अलर्ट से निपटने के लिए बुलाई बैठक

उपायुक्त शिमला अमित कश्यप ने रविवार को आगामी बर्फबारी के दौर के बारे में उच्च अधिकारियों की बैठक ली. उन्होंने लोक निर्माण विभाग, नगर निगम, पुलिस, परिवहन, विद्युत, राष्ट्रीय उच्च मार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों से गहन विचार-विमर्श किया और उनके सुझावों को आमंत्रित किया ताकि जिला में लोगों को बर्फबारी के दौरान कोई दिक्कत ना आए. वहीं बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए है.

शहर में हर तीन किलोमीटर पर तैनात होगी जेसीबी मशीनें

अमित कश्यप ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर शहर के संवेदनशील स्थानों को लेकर विस्तृत चर्चा की. साथ ही जेसीबी, रोबोट व डोजर पर्याप्त मात्रा में चिन्हित स्थानों पर तैनात करने के निर्देश दिए, ताकि बर्फबारी के दौरान सड़कों को तत्काल खोला जा सके और यातायात अवरुद्ध ना हो. जिला उपायुक्त अमित कश्यप ने जानकारी देते हुए कहा कि संवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त मात्रा में रेत फेंका जाएगा ताकि यातायात सुचारू रूप से चले. उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग के कर्मचारी संवेदनशील व चिन्हित स्थानों पर तैनात होंगे, जिससे बर्फबारी के दौरान कोई दिक्कत ना आए.

यह भी पढ़ें- इंडियन साइंस कांग्रेस बेंगलुरु में हिमाचली छात्रों ने लहराया परचम, PM मोदी ने भी सराहा

यह भी पढ़ें- उद्योग विभाग के प्रबंधक का पेड़ से लटका मिला शव, फंदे से झूलता देख मां हुई बेसुध

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 12, 2020, 6:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर